काशी में आधी रात 66 मिमी बारिश:इस मानसून की रिकॉर्ड तोड़ बरसात; गंगा में उफान से बदला अस्सी का आरती स्थल

वाराणसी2 महीने पहले

वाराणसी में आज आधी रात मानसून की सबसे ताबड़तोड़ बारिश हुई। मौसम विज्ञान विभाग, बाबतपुर और काशी हिंदू विश्वविद्यालय के अनुसार एक रात में रिकॉर्डतोड़ 66 मिलीमीटर बरसात हुई। विभाग की माने तो आज रात की बारिश ने सितंबर के बारिश के कोटे को पूरा कर दिया है। बिजली चमकने और बादल कड़कने के साथ काशी में मूसलाधार बरसात हुई। एक ही बार में इतनी ज्यादा बारिश लोगों को चौका दिया है। यदि आज दिन या रात में बारिश हुई तो सितंबर महीने में बारिश का 10 साल का रिकॉर्ड टूट सकता है।

सुसुवाही-BHU-लंका मार्ग पर रूका बारिश का पानी।
सुसुवाही-BHU-लंका मार्ग पर रूका बारिश का पानी।

वाराणसी में रात करीब 2-3 घंटे तक बारिश रूकी ही नहीं। उस दौरान हवा 15 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से चल रही थी। रात की बरसात ने पूरे शहर को पानी-पानी कर दिया है। बारिश की वजह से मौसम बेहद खुश मिजाज हो गया है। वहीं सड़कों और गलियों में चलने में काफी फजीहत हो रही है। जगह-जगह कीचड़ और पानी फैला हुआ है।

BLW-ककरमत्ता-मंडुआडीह मार्ग पर लगा बारिश का पानी।
BLW-ककरमत्ता-मंडुआडीह मार्ग पर लगा बारिश का पानी।

सितंबर भर होगी अच्छी बारिश

मौसम आज सुबह से काफी बेहतर बना हुआ है। बादल छाए हुए हैं। तापमान 26 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है। नमी 99% तक बनी हुई है। वाराणसी का अधिकतम तापमान 32.4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।काशी हिंदू विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक प्रोफेसर मनोज कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि आज दोपहर के बाद तक हल्की धूप निकल सकती है। हालांकि, सितंबर भर अच्छी-खासी बारिश हो सकती है।

गंगा का यह विहंगम स्वरूप वाराणसी का है। बीते 4 दिन से करीब ढाई मीटर जलस्तर बढ़ा है।
गंगा का यह विहंगम स्वरूप वाराणसी का है। बीते 4 दिन से करीब ढाई मीटर जलस्तर बढ़ा है।

गंगा के जलस्तर में 37 सेंटीमीटर की बढ़ोतरी

गंगा में उफान जारी है। आज गंगा में 37 सेंटीमीटर की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। हर घंटे 3 सेंटीमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गंगा बढ़ रहीं हैं। अस्सी घाट का आरती स्थल फिर से बदलकर 3 सीढ़ी ऊपर कर दिया गया है। वहीं, घाटों पर स्नान-धान करने में लोगों को दिक्कतें आ रहीं। वाराणसी पुलिस ने गंगा में नौका संचालन पर पूरी तरह से रोक लगा दिया है।