पति-पत्नी के बीच सुलह का दिन 22 जनवरी मुकर्रर:सुबह 10 बजे से दीवानी न्यायालय परिसर में विशेष लोक अदालत का होगा आयोजन

वाराणसी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में पति-पत्नी के बीच हुए विवादों के निपटारे के लिए 22 जनवरी सुबह 10 बजे का समय मुकर्रर किया गया है। दीवानी न्यायालय परिसर में विशेष लोक अदालत का आयोजन किया गया है। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में पति-पत्नी के बीच हुए विवादों के निपटारे के लिए 22 जनवरी सुबह 10 बजे का समय मुकर्रर किया गया है। दीवानी न्यायालय परिसर में विशेष लोक अदालत का आयोजन किया गया है।

पति-पत्नी के बढ़ते विवाद को निपटाने के लिए स्थानीय स्तर पर पुलिस के अलावा कोर्ट भी प्रयास करता है। जब दोनों के बीच अंतिम समझौता न हो तभी किसी प्रकार का निर्णय कोर्ट लेती है। वाराणसी में पति-पत्नी के बीच हुए विवादों के निपटारे के लिए 22 जनवरी सुबह 10 बजे का समय मुकर्रर किया गया है। दीवानी न्यायालय परिसर में विशेष लोक अदालत का आयोजन किया गया है। इसमें वैवाहिक मामलों के प्री-लिटिगेशन स्तर के प्रकरणों का सहमति के आधार पर सुलह समझौते से निस्तारित किया जाएगा।

बच्चों पर पड़ता है इसका बुरा असर
पति और पत्नी के छोटे-छोटे विवाद तलाक तक पहुंच जाते हैं, जिसके कारण परिवार टूटने में जरा सा भी समय नहीं लगता है। ऐसे में कहीं न कहीं बच्चों पर इसका बुरा असर पड़ता है। पति-पत्नी के बीच होने वाले विवाद के कारण को पता कर उनमें सामंजस्य स्थापित कर उनके रिश्ते में सुधार लाने का प्रयास उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा किया जा रहा है। राज्य विधिक सवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार 22 जनवरी की सुबह 10 बजे प्री-लिटिगेशन पर मामलों का निपटारा किया जाएगा।

पति-पत्नी के बीच आई कटुता को दूर करना ही लक्ष्य
इस बात की जानकारी देते हुए पूर्णकालिक सचिव कुमुद लता त्रिपाठी ने बताया कि इस वैवाहिक विवादों के समाधान के लिए विशेष अदालत का आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि पति पत्नी के बीच जरा सी बात को लेकर रिश्ता समाप्त होने की कगार पर पहुंच जाता है। हमारा प्रयास करता है कि दोनों के बीच आए कटुता को दूर कर वापस दोनों की जिंदगी में खुशियां भरी जा सके।

खबरें और भी हैं...