गटक गए एक दिन में 4 करोड़ रुपए की शराब:बनारस में साल 2021 को विदा करने और नए साल 2022 के स्वागत में जमकर हुई पार्टी

वाराणसी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बनारस में साल 2021 को विदा करने और नए साल 2022 के स्वागत में जमकर पार्टी हुई। - Dainik Bhaskar
बनारस में साल 2021 को विदा करने और नए साल 2022 के स्वागत में जमकर पार्टी हुई।

वर्ष 2021 को विदाई देने में जुटे बनारस शहर और दूर दराज से काशी आए लोगों ने इतनी तन्मयता दिखाई कि एक ही दिन में चार करोड़ की शराब गटक गए। साल के अंतिम दिन शुक्रवार को जिले में हाल यह रहा कि शाम को चार बजते-बजते कई दुकानों पर स्टाक ही खत्म हो गया। लेकिन एक बात देखने को मिली कि सामान्य की बजाय ब्रांडेड शराब की डिमांड अधिक रही। इससे यह साबित होता है कि नए साल के जश्न में रईसजादे पीछे नहीं थे। बार और वाइन शाप के साथ ही अस्थाई लाइसेंस लेकर भी लोगों ने जमकर शराब पी।
सामान्य तौर पर रोजाना ढाई करोड़ की होती थी बिक्री
आबकारी विभाग के आंकडों की बात करें तो सामान्य दिनों में जिले में रोज ढाई करोड़ रूपए की शराब बिकती है। 31 दिसंबर को साल के अंतिम दिन चार करोड़ से अधिक की शराब बिक गई। इससे आबकारी की एक्साइज इनकम अच्छी खासी रही।
ओमिक्रान संक्रमण ने भी नहीं किया विचलित
आबकारी विभाग की मानें तो नए साल का जश्न मनाने वाले दिसंबर के अंतिम दिन अधिक शराब खरीदते हैं। इस साल ओमिक्रान संक्रमण फैलने के बाद भी लोगों ने शराब पीने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पिछले साल कोरोना संक्रमण के चलते शराब की दुकानें बंद होने से ब्रिकी कम हुई थी। इससे आबकारी विभाग का राजस्व लक्ष्य पूरा नहीं हो सका था, ऐसे में इस बार आबकारी विभाग के अधिकारी अधिक ब्रिकी से खुश नजर आए
दिसंबर में 87 करोड़ की हुई बिक्री
आबकारी विभाग की रिपोर्ट के अनुसार इस बार दिसंबर माह में कुल 87 करोड़ कीमत के शराब की बिक्री हुई है। इसमें 43 करोड़ विदेशी, 11 करोड़ बियर और 33 करोड़ की देशी शराब की ब्रिकी शामिल है। जिला आबकारी अधिकारी ओमवीर सिंह ने कहा कि साल 2021 के अंतिम दिन आबकारी विभाग को अच्छा खासा मुनाफा हुआ है। स्टॉक हमारे पास पर्याप्त मात्रा में रहता है, हां शॉप पर शॉर्टेज की संभावना हो गई थी। उन्होंने कहा कि इस साल के अंतिम माह में भी एक्साइज इनकम काफी अच्छी रही। पिछली बार कोरोना के चलते दुकाने बंद हो गई थीं तो हमें काफी नुकसान झेलना पड़ा था।