शकुंतला अमीर चंद प्राइज से सम्मानित हुए डॉ. प्रांजल:IIT-बीएचयू के असिस्टेंट प्रोफेसर को बायोमेडिकल और क्लिनिकल रिसर्च के लिए मिला सम्मान

वाराणसी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ. प्रांजल चंद्रा। - Dainik Bhaskar
डॉ. प्रांजल चंद्रा।

वाराणसी स्थित IIT-बीएचयू के स्‍कूल ऑफ बायोकेमिकल इंजीनियरिंग विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. प्रांजल चंद्रा को प्रतिष्ठित शकुंतला अमीर चंद प्राइज 2020 अवार्ड से सम्मानित किया गया है। डॉ. प्रांजल चंद्र को यह अवार्ड नई दिल्ली भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) की तरफ से बायोमेडिकल और क्लिनिकल रिसर्च के लिए दिया गया है।

शकुंतला अमीर चंद पुरस्कार युवा वैज्ञानिकों द्वारा जैव चिकित्सा विज्ञान और नैदानिक अनुसंधान में महत्वपूर्ण योगदान को मान्यता देता है। यह 1953 में (दिवंगत) मेजर जनरल अमीर चंद द्वारा उनकी बेटी की याद में स्थापित किया गया था। यह पुरस्कार अपने क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रकाशित शोध कार्य के लिए प्रस्तुत किया जाता है।

जैव अणुओं का पता लगा सकते हैं बायोसेंसिंग उपकरण

नैदानिक अनुसंधान सहित जैव चिकित्सा विज्ञान क्षेत्र में कार्य करने के लिए डॉ. चंद्रा को इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए उनके मौलिक शोध कार्य के लिए चुना गया है। जिसमें बायोसेंसिंग उपकरण विकसित किए गए हैं जो जैव अणुओं का पता लगा सकते हैं जैसे- क्षारीय फॉस्फेट, कैंसर बायोमार्कर, दवाएं आदि जटिल जैविक तरल पदार्थ...। इनकी विश्व स्तर पर रोग निदान और रोग प्रयोगशालाओं में चिकित्सीय हस्तक्षेपों के विश्लेषण में जबरदस्त भूमिका है।

शोध आम आदमी के लिए उपयोगी हो सकता है

संस्‍थान के निदेशक प्रोफेसर प्रमोद कुमार जैन ने डॉ. चंद्रा को उनकी उपलब्धि पर बधाई दी है। कहा कि यह शोध आम आदमी के लिए उपयोगी हो सकता है और मानव स्वास्थ्य में सुधार की दिशा में सहायता कर सकता है। उन्होंने कहा कि इस तरह के विकसित नैदानिक उपकरण स्पष्ट रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया और स्टार्टअप इंडिया के दूरदर्शी राष्ट्रीय मिशन के अंतर्गत आते हैं।

यह अन्य उपकरणों के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं जो हाल के दिनों में भारत में आयात किए गए हैं। ऐसे कई उपकरण और उन्नत विश्लेषणात्मक प्रणालियां IIT-बीएचयू में विकास के क्रम में हैं। डॉ. चंद्रा के नेतृत्व में शोधकर्ताओं की टीम ने पहले ही IIT-बीएचयू के माध्यम से पेटेंट दाखिल कर दिया है और भविष्य का लक्ष्य आने वाले वर्षों में इसे बाजार में लाना है।

खबरें और भी हैं...