काशी में मस्जिद के बाद कांग्रेस का दफ्तर भी गेरुआ:36 घंटे का अल्टीमेटम देकर कांग्रेसी बोले- पहले जो कलर था वही कर दो

वाराणसी5 महीने पहले
मैदागिन स्थित इस बिल्डिंग के पहली मंजिल पर कांग्रेस का कार्यालय है।

प्रधानमंत्री मोदी के आने से पहले वाराणसी में कांग्रेस दफ्तर का रंग भी गेरुआ हो गया है। हालांकि, कांग्रेसियों ने इस पर नाराजगी जताई है। कांग्रेसियों का कहना है कि अनुमति लिए बगैर और बिना सहमति के कार्यालय की दीवार का रंग बदल दिया गया है। यदि 36 घंटे में प्रशासन ने उनके कार्यालय का रंग बदलवा कर पहले जैसे नहीं किया तो वह कानूनी कार्रवाई के लिए बाध्य होंगे।

आजादी के पहले का है कार्यालय
कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने कहा कि मैदागिन स्थित हमारी पार्टी का कार्यालय देश की आजादी के पहले का है। हमारे कार्यालय का रंग बदलने से पहले हमसे पूछा क्यों नहीं गया? हर नाजायज काम पर हमारा विरोध है। अगर भवनों का रंग बदलने से इस देश और प्रदेश में गरीबी, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, भुखमरी और महिलाओं का उत्पीड़न रुक जाए तो हमारा पूरा समर्थन है कि मोदीजी और योगीजी जैसा चाहें वैसा रंग कराएं।

लेकिन, जिस काम के लिए सरकार बनी है, वह तो कर नहीं पा रही है। अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए वह धर्म और रंगों का सहारा ले रहे हैं। हमारे विधि प्रकोष्ठ की ओर से वीडीए यानी वाराणसी डेवलपमेंट अथारिटी को 36 घंटे की मोहलत दी गई है। यदि वह 36 घंटे में माफी नहीं मांगते हैं और रंग पहले के जैसे नहीं करवाते हैं तो हम कानूनी कार्रवाई के लिए बाध्य होंगे।

मैदागिन स्थित इस बिल्डिंग के प्रथम तल पर कांग्रेस का कार्यालय है।
मैदागिन स्थित इस बिल्डिंग के प्रथम तल पर कांग्रेस का कार्यालय है।

3 दिन पहले मस्जिद का रंग बदलने पर हुआ था विवाद
कांग्रेस कार्यालय से पहले बुलानाला स्थित मस्जिद का रंग रातों-रात सफेद से गेरुआ कर दिया गया था। 7 दिसंबर को मुस्लिम समुदाय और मस्जिद प्रबंधन से जुड़े लोगों ने इसे लेकर आपत्ति की और दैनिक भास्कर ने खबर प्रकाशित की। इसके चंद घंटों बाद ही वीडीए ने पुन: मजदूरों से मस्जिद का रंग सफेद कराया। इसके साथ ही वीडीए ने स्पष्ट किया कि किसी की धार्मिक भावना को आहत करना उद्देश्य नहीं था। मैदागिन से गोदौलिया तक सड़क किनारे की बिल्डिंग में एकरूपता के लिए एक रंग से पुताई कराई जा रही है।

इस वजह से कराई जा रही है पुताई
श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 दिसंबर को वाराणसी आएंगे। प्रधानमंत्री के आगमन के दौरान काशी विश्वनाथ धाम की ओर जाने वाले मार्ग की बिल्डिंग एक तरह की दिखें। इसी के मद्देनजर वीडीए की ओर से मैदागिन से गोदौलिया के बीच की बिल्डिंग की सड़क की ओर की दीवारों को गेरुआ रंग से रंगवाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...