पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Madhurima
  • Corona Period Has Taught Us To Have A Positive Attitude Towards Life, How? Read This Experience

अंधेरे का उजला पक्ष:कोरोना काल ने जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखना सिखा दिया है, कैसे? पढ़िए इस अनुभव में

शैलेष कुमार शर्मा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोनाकाल के उस दुरूह समय ने अकस्मात ही एकबारगी सभी को हैरान-परेशान कर दिया।
  • और हमें ज़िंदगी के प्रति दृष्टिकोण और जीवनशैली को आमूलचूल परिवर्तित करने को भी विवश होना पड़ा।

कोरोना काल में पहले लॉकडाउन के समय ज़िंदगी का रूप बदल गया। बाज़ार बंद पड़ने से घर में उपलब्ध सीमित साधनों-संसाधनों के बीच जीवन यापन करने की कला सीखी। साल-दर-साल की भागदौड़ से इतर एक साल ऐसा गुज़रा जिसमें परिजनों के साथ कई दिन यादगार गुज़रे।

फिर दूसरी लहर आई और हालात और बिगड़ गए। इस दौरान मीडिया में दिन-रात सड़कों पर भूखे-प्यासे मज़दूरों और उनके परिवारों के घर लौटने की जद्दोजहद भरी ख़बरों, कोरोना से मरने वालों के शवों की दुर्गति की तस्वीरों, इलाज के अभाव में दम तोड़ते मरीज़ों की व्यथा ने बहुत विचलित भी किया... साथ ही परिस्थिति से डटकर जूझने और ज़रूरतमंदों की हरसंभव मदद करने वाले जांबाज़ों की ख़बरें भी आईं, जिनसे प्रेरणा मिली।

कोरोना के लक्षणों से एक साथ घिरने और उनसे उबरने के दौरान सभी घरवालों को अनुभूति हुई कि शायद कोरोना हमें अब तक सही-सलामत रखकर, सभी को भविष्य में भूतकाल की ग़लतियां ना दोहराने एवं प्रकृति से खिलवाड़ नहीं करने का संदेश दे रहा है। कोरोना काल ने पर्यावरण संरक्षण के प्रति जो चेतना जगाई है, वह वाकई ऐतिहासिक है। वहीं बीमारियों से बचाव के लिए व्यायाम और योग के प्रति भी हमारा रुझान बढ़ा है।

उजला पक्ष यह रहा कि —

कोरोना के खौफनाक साये में बीते सवा साल ने हमें जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखना सिखा दिया है। सभी परिजनों ने अत्यन्त उत्साह के साथ जीवन की दूसरी पारी जीने का संकल्प लेते हुए कोविडरोधी टीकाकरण (वैक्सीनेशन) करवा लिया है।

बेहतर स्वास्थ्य के लिए समय पर सादगीपूर्ण पौष्टिक खान-पान, संयमित और अनुशासित दिनचर्या का पालन, स्वेच्छा से ही नियमित व्यायाम और योग भी करने लगे हैं। सामूहिक प्रयासों से अब घर में तनाव का वातावरण नगण्य है, परस्पर हंसी-ख़ुशी से परिपूरित व्यवहार में वृद्धि होने से मानसिक तनाव का स्थान मन की शांति ने ले लिया है।

खबरें और भी हैं...