पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दोहे - क्षणिकाएं:धरती की ख़ूबियों से रूबरू कराते दोहे और बेहद अलग अनुभूति देने वाली क्षणिकाएं

कन्हैया साहू ‘अमित’, पवन कुमार वैष्णव16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

धरती करे पुकार

शीत ग्रीष्म वर्षा हवा, कुदरत के उपनाम। मटमैली मिट्टी अमित, धरती धीरज धाम। सरिता सागर सीपियां, राख रेणु रज रेत। धरती के ये रूप ये, खाड़ी खेड़ा खेत। जलधर जीवनदायिनी, नदियां पोखर कूप। धूसर धात्री धारिणी, अनुपम अमित अनूप। कोख कहीं ज्वालामुखी, कहीं मिष्ट जलधार। अनल अनिल मरु आपगा, पृथ्वी प्रिय परिवार। सौम्य सुमन सुरभित सजे,पग-पग पादप पेड़। ख़ुशियों की ये क्यारियां, मटिया मंडित मेड़। वसुंधरा अति विमलता, वरदानी व्यवहार। मिथक नहीं ये कल्पना, कुदरत ही करतार। वसुधा परहितकारिणी, हार्दिक है हितवाद। देह गलाकर खुद धरा, बनती पोषक खाद। सुखमय शुभकर सर्वदा, धरती धानी गोद। मानव लखलुट लालची, हाथ स्वयं जड़ खोद। खूब खज़ाना पार्थिवी, नीर अन्न आहार। दैहिक दोहन से दुखी, धरती करे पुकार।

पीड़ा में पड़ कर

मैंने बड़ी मुश्किल से अपने हिस्से की ज़मीन तैयार की है आज मुझे उस पर खड़ा देख सब उस पर अपने पैरों के निशान दिखाने आ गए! ... पहाड़ की ओट में डूबता सूरज धरती की सारी थकान अपने साथ ले जाता है चांद आकर धरती की आंखों में नींद भरता है ...

बोलने की इतनी होड़ा-होड़ी है कि सुनने को कोई तैयार ही नहीं..! बातें सिर्फ़ शोर हैं आदमी सिर्फ़ ज़ुबान है। कान सांप के पैरों की तरह लुप्त हो रहे हैं... मैं डार्विन का कोट पहनकर ख़ुश हूं! ... अगली बार पत्थर को पर्वत समझ कर मैं अंजुरी-भर पानी उस पर उड़ेल दूंगा..! तुम उसे नदी समझ अपने पैर भिगो लेना..! अपनी प्रेम-कहानी समुद्र तक जाएगी..! ... पीड़ा में पड़ कर पीड़ा पर कोई कविता नहीं लिख पाया पीड़ा से मुक्त होकर ही पीड़ा पर लिख सकते हैं कोई कविता! जिन्होंने पीड़ा में पड़ने से पहले लिख दी पीड़ा पर कविता तो उसकी पीड़ा झूठी है या उसकी कविता..!

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें