पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Madhurima
  • Fine grained Poppy Seeds Are Considered Beneficial For Health, They Help In Enhancing The Taste Of Food And Fighting Many Diseases.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सेहत मंत्र:बारीक़ दिखने वाले खसखस के दाने सेहत के लिए फ़ायदेमंद माने जाते हैं, ये भोजन का स्वाद बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों से लड़ने में मददगार हैं

पायल शर्मा, आहार विशेषज्ञ, धर्मशिला नारायणा सुपरस्पेशेलिटी अस्पताल13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • खसखस के दाने आमतौर पर दवा के रूप में प्रचलित हैं या फिर मिठाइयां बनाने में इस्तेमाल होते हैं
  • सर्दियों में घरों में खसखस का हलवा बनाया जाता है। बहुत बार पाचन ठीक करने के उद्देश्य से भी इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है।

बहुगुणकारी है खसखस
प्रोटीन, विटामिन्स, ओमेगा 6 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत होने के कारण खसखस सम्पूर्ण स्वास्थ्यवर्धक भोजन की श्रेणी में आ जाता है। यह हमारे शरीर में कोशिकाओं के निर्माण, मांसपेशियों की मरम्मत से लेकर शारीरिक विकास में बेहद अहम भूमिका निभा सकता है। प्रोटीन की ही कमी हमारे स्वास्थ्य पर व्यापक असर भी डालती है, इसलिए खसखस फायदेमंद है। साथ ही इसमें मौजूद ओमेगा 6 फैटी एसिड की मात्रा डायबिटीज़ को नियंत्रित रखने में मददगार होती है और रक्त के सही संचालन में भी मदद करती है।

कैल्शियम से भरपूर
कैल्शियम से भरपूर होने के कारण यह कमज़ोर हड्डियों की समस्या से तो निजात दिलाने में मदद करता ही है साथ ही इसके व्यंजनों का सेवन बढ़ते बच्चों के लिए भी लाभदायक है। इसका नियमित सेवन पूरे परिवार के लिए लाभदायक है।

फाइबर से भरपूर
खसखस में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जिसके कारण यह पाचन में सहायक होता है अर्थात अपच की समस्या में अक्सर खसखस के सेवन की सलाह दी जाती है।

हृदय रोग से बचाव
खसखस में डाइटरी फाइबर की प्रचुर मात्रा होने के कारण यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, जिससे हृदय रोगों से बचाव में मदद मिलती है।

थाइरॉइड से लड़ने में मददगार
खसखस में मौजूद ज़िंक थाइरॉइड की समस्या में बहुत मददगार होता है। खसखस को थाइरॉइड के मरीज़ों के लिए बेहतर खाद्य पदार्थों में से एक बताया जाता है। इसके अलावा ज़िंक के सेवन से इम्युनिटी बढ़ाने में भी मदद मिलती है, जिससे अन्य रोगों से लड़ने में भी मदद मिलती है।

अनिद्रा में सहायक
खसखस का सेवन तनाव का स्तर कम करने में मदद करता है, जिससे सही मात्रा में नींद सुनिश्चित की जा सकती है। साथ ही खसखस में मौजू्द कार्बोहाइड्रेट की मात्रा शरीर को ऊर्जावान बनाने में मदद करती है। यानी खसखस का सेवन आपके दैनिक जीवन में नई ऊर्जा का संचार कर सकता है।

ध्यान दें...
खसखस का सही मात्रा में सेवन करना बहुत ज़रूरी है, हालांकि आमतौर पर इसका सामान्य रूप से सेवन सुरक्षित ही होता है लेकिन इसके अत्यधिक सेवन या ग़लत तरीके से सेवन के दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं, जिनमें उल्टियां, आंखों में तकलीफ़, एलर्जी की समस्या आदि शामिल हैं। इसलिए इसके सेवन के सही तरीके का चुनाव करें।

- खसखस को हल्का भूनकर पीसकर स्टोर करके रखा जा सकता है, जिसे दिन में एक चम्मच दूध या दही के साथ लिया जा सकता है। - सुबह नाश्ते में खसखस के एक चम्मच पाउडर को दूध के साथ व अन्य ड्राय फ्रूट्स के साथ लिया जा सकता है। इसे पानी के साथ लेने की सलाह नहीं दी जाती। इसे दूध या दही में एक चम्मच मिलकर लें। - सलाद के ऊपर डालकर इसका सेवन किया जा सकता है। - यदि आप गर्भवती हैं या अपने बच्चे को स्तनपान करवाती हैं, या किसी रोग की दवाइयां लेती हैं, तो अपने डॉक्टर के परामर्श के अनुसार ही इसका सेवन करें।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें