बनाए रखें ऊर्जा:नवरात्रि में भागदौड़ से होने वाली थकान को ऐसे करें दूर

11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फिर घर-परिवर के काम भी होते ही हैं। ऐसे में ऊर्जा कम होना और थकावट महसूस होना स्वाभाविक है।
  • साधना की इस बेला में अगर चंद लम्हे ख़ुद के लिए भी निकाल लें, तो ऊर्जा लौट आएगी।

ठंडे पानी की सिकाई

अगर पैरों में थकावट के साथ-साथ दर्द भी है, तो ठंडे पानी में पैरों को रखकर बैठ जाएं। पानी में ही पैरों को आगे-पीछे चलाएं। इससे तलवों को राहत मिलेगी और दर्द के साथ-साथ जलन भी दूर होगी।

ऊर्जा के लिए ड्रिंक

एक गिलास पानी में एक चम्मच शक्कर, चुटकी भर नमक, आधा चम्मच नींबू का रस और थोड़ा सा अदरक का रस मिलाकर ड्रिंक तैयार करें और बोतल में भर लें। हर घंटे में एक-एक घूंट पिएं। ध्यान रखें कि इस पानी को 2-3 घंटे में ख़त्म कर लें या नया बना लें।

पैरों की मसाज

घुटनों से लेकर तलवों तक की तिल के तेल से मसाज करें। सरसों या जैतून के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं। हाथों और पैरों के नाखूनों की भी मसाज करें। इससे पैरों के साथ-साथ उंगलियों को भी आराम मिलेगा।

सिर की मसाज

तेल लगाकर या यूं ही हल्के हाथों से सिर की मसाज करें। चाहें तो बालों में कंघा घुमा सकते हैं। इससे रक्तसंचार बढ़ेगा और मानसिक रूप से जो थकावट महसूस कर रहे हैं, वो भी दूर हो जाएगी। इस आसान उपाय से आपको तुरंत सुकून महसूस होगा।

गुनगुने पानी से स्नान करें

हालांकि, अभी फिज़ां में उतनी ठंडक नहीं है, पर तरावट महसूस करने के लिए गुनगुने पानी से स्नान कर सकते हैं। सिर से नहाने पर ज़्यादा ताज़गी महसूस करेंगे। गुनगुने पानी से दर्द से भी राहत मिलती है।

गर्म पानी से राहत

गर्म पानी में नमक डालकर उसमें पैर रखकर कुछ मिनट बैठ जाएं। इससे पैरों की मांसपेशियों में आराम मिलेगा और थकावट दूर होगी। ऐसा 10-15 मिनट के लिए किया जा सकता है। यह अच्छी नींद में भी सहायक होता है। पानी बहुत गर्म न हो।

खबरें और भी हैं...