• Hindi News
  • Madhurima
  • In The Rain, Along With The Hair, The Skin Also Has To Face Many Problems, With A Little Care, You Can Take Care Of Both.

सौंदर्य:बारिश में बालों के साथ त्वचा को भी कई समस्याओं से रूबरू होना पड़ता है, थोड़ी-सी देखरेख करके दोनों का ख़्याल रख सकते हैं

डॉ. प्रियंका धनोतिया, डर्मेटोलॉजिस्ट, अरिहंत हॉस्पिटल, इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्षा के मौसम में बालों व त्वचा में चिपचिपापन, बालों का झड़ना, खुजली, मुंहासे आदि समस्याएं शुरू हो जाती हैं।
  • हवा में अधिक नमी के कारण सिर की त्वचा के साथ-साथ बालों पर भी गंदगी जमा हो जाती है। इस कारण बाल कमज़ोर होकर टूटने लगते हैं।
  • नमी के कारण बालों की जड़ों के पास जमे बैक्टीरिया रूसी की परेशानी को भी बढ़ा देते हैं। इन दिनों फंगल इंफेक्शन का डर भी बना रहता है।

त्वचा की देखभाल के लिए उपाय

- इस मौसम में रोम छिद्र बंद होने की समस्या सबसे अधिक देखी जाती है। इस मुश्किल से छुटकारा पाने के लिए रोज़ क्लींजि़ंग, टोनिंग और मॉइश्चराइजिंग करना न भूलें। -वॉटर बेस्ड सनस्क्रीन का प्रयोग करें जिसका एसपीएफ 15 से 30 के बीच हो। सनसक्रीन हमेशा अच्छी गुणवत्ता की ही इस्तेमाल करें। -बारिश के मौसम में चेहरे को दिनभर में कम से कम 2-3 बार ज़रूर धोएं। इससे त्वचा का तैलीयपन भी दूर होगा और इस पर जमी गंदगी भी साफ़ हो जाएगी। - बारिश के मौसम में मेकअप इस्तेमाल न करने की सलाह दी जाती है। लेकिन अगर मेकअप करना ज़रूरी हो तो कोशिश करें कि वॉटरप्रूफ या मैट मेकअप का ही इस्तेमाल करें। इस समय ऑइल फ्री उत्पादों का प्रयोग करना बेहतर रहता है।

पैक्स

बेसन-हल्दी पैक— एक चम्मच बेसन में एक चुटकी हल्दी मिलाएं। मिश्रण में नींबू के रस की कुछ बूंदें और एक चम्मच गुलाब जल मिलाएं। इसको चेहरे व गर्दन पर लगाएं। क़रीब 15 मिनट बाद पानी से धो लें। बेसन में रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो मुंहासों का इलाज करने में मदद करते हैं।
नींबू-शहद पैक— आधा नींबू का रस दो चम्मच शहद के साथ मिलाएं। इस मिश्रण को साफ़ त्वचा पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद पानी से धो लें। शहद त्वचा के पीएच संतुलन को बनाए रखता है। नींबू का रस त्वचा को चमक देता है।

बालों को स्वस्थ रखने के उपाय

- बारिश का पानी अम्लीय होता है जो बालों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसीलिए बारिश में बालों को भीगने से बचाएं और भीगने की स्थिति में साफ़ पानी से धोने के बाद ही सुखाएं। - बालों और सिर की त्वचा पर जमी गंदगी को हटाने के लिए सप्ताह में कम से कम दो या तीन बार बालों को धोएं। इस समय बालों को धोने के लिए एंटीबैक्टीरियल व एंटिफंगल शैम्पू का प्रयोग करें। - बालों की सुरक्षा के साथ-साथ रूखेपन को रोकने के लिए कंडीशनर का उपयोग अच्छा है। इसके लिए सौम्य व हर्बल कंडीशनर का इस्तेमाल करें। - मज़बूत बालों के लिए सही खानपान आवश्यक है। इसीलिए उचित आहार का सेवन सुनिश्चित करें जिसमें हरी सब्जि़यां, डेयरी उत्पाद, अंडे तथा अखरोट जैसे सूखे मेवे शामिल हों। इसके अलावा तले-भुने भोजन का सेवन न करें। - सिर धोने से पहले गुनगुने तेल से मालिश भी कर सकते हैं। इससे सिर की त्वचा में रक्त संचार सुचारु रूप से होता है जिससे बाल मज़बूत बनेंगे। - बालों के प्रकार के अनुसार हेयर सीरम का उपयोग करें। यह बालों को पोषण देगा और रुखेपन से भी बचाएगा। इसके साथ ही बालों के टूटने की समस्या भी कम होगी।

पैक्स

​​​​​​​मेथीदाना पैक— मेथीदानों में एंटी-डैंड्रफ और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और नींब विटामिन-सी से भरपूर होता है। एक-दो नींबू का रस और एक चम्मच मेथीदाना पाउडर मिलाएं। इस मास्क को 30 मिनट के लिए लगाएं और फिर हर्बल शैम्पू से धो लें।
एलोवेरा पैक— एलोवेरा जैल सिर की त्वचा की खुजली का उपचार करता है जबकि दही में मौजूद लैक्टिक एसिड सिर की त्वचा की सफ़ाई करता है। एक चम्मच दही के साथ एक चम्मच एलोवेरा जैल मिलाएं। इसको स्कैल्प और बालों पर लगाकर सूखने दें। 15 मिनट बाद शैम्पू से धो लें।

खबरें और भी हैं...