सेहत:आहार में कुछ खाद्य पदार्थों को शामिल करके पीरियड्स की तकलीफ़ों से राहत पाई जा सकती है....

डॉ. सोनम गुप्ता, स्त्री रोग विशेषज्ञ, एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, फरीदाबाद16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हर महीने पीरियड्स के दौरान पेट में दर्द, एंेठन, चिड़चिड़ापन, सिरदर्द, कमर दर्द और ऐसी कई समस्याआंे का सामना करना पड़ता है।
  • आहार में कुछ खाद्य पदार्थों को शामिल करके पीरियड्स की इन तकलीफ़ों से राहत पा सकते हैं....

माहवारी के दौरान महिलाओं में कुछ हाॅर्मोन रिलीज़ होते हैं जिससे ओवरी में ख़ून की कमी हो जाती है और मांसपेशियां सिकुड़ने लगती हैं। इसकी वजह से पेट के निचले हिस्से में बहुत ज़्यादा दर्द और ऐंठन महसूस होती है। पीरियड्स के दौरान होने वाली तकलीफ़ और दर्द महिलाओं को अलग-अलग तरह से होते हैं और इसके लक्षण भी अलग-अलग होते हैं। लेकिन कभी-कभी यह दर्द इतना असहनीय हो जाता है कि महिलाएं बहुत ज़्यादा परेशान हो जाती हैं। कुछ तो इस दर्द और ऐंठन से परेशान होकर दवाइयों का सेवन तक करने लगती हैं तो वहीं कुछ महिलाएं घरेलू उपाय भी अपनाती हैं।

हरी पत्तेदार सब्जि़यों का अधिक सेवन
पीरियड्स के दौरान ख़ून की कमी होने लगती है और इस कारण शरीर में आयरन की कमी भी हो जाती है। ऐसे में हरी पत्तेदार सब्जि़यों के सेवन से रक्त की मात्रा बढ़ाने में मदद मिलती है। पीरियड्स के समय उसे नियमित रूप से पत्तेदार सब्जि़यां अपने आहार में शामिल करनी चाहिए।
कैल्शियम से भरपूर हो आहार
कुछ शोध से पता चला है कि कैल्शियम का उचित मात्रा में सेवन करने से न केवल पीरियड्स के दर्द और ऐंठन में आराम मिलता है बल्कि यह थकान और मूड स्विंग जैसे पीएमएस लक्षणों को भी कम करने में सहायक होता है। दूध, दही और पनीर कैल्शियम के अच्छे स्रोत माने जाते हैं।
डार्क चॉकलेट रखती है मूड सही
विशेषज्ञों का मानना है कि डार्क चॉकलेट में मैग्नीशियम और फाइबर की मात्रा अधिक होती है और इनके सेवन से पीएमएस और दर्द कम करने में सहायता मिलती है। इसके अलावा चॉकलेट खाने से मूड भी अच्छा होता है। इस दौरान ऐसी चॉकलेट का सेवन करें जिसमें 80% से ज़्यादा कोको हो।
हर्बल टी का सेवन
इस समय महिलाओं को ऐंठन और दर्द से राहत के लिए हर्बल चाय का सेवन करना लाभदायक होता है। कैमोमाइल और पेपरमिंट चाय से शरीर को थोड़ा आराम मिलता है जिससे दर्द और ऐंठन में भी राहत महसूस होती है।
आहार में मैग्नीशियम बढ़ाएं
आहार में बादाम, काली बीन्स, पालक, दही और पीनट बटर को शामिल करती हैं, तो शरीर को उचित मात्रा में मैग्नीशियम मिल जाता है जिससे दर्द और ऐंठन में आराम मिलता है। इन सभी में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम उपलब्ध है और इसके अलावा सप्लीमेंट भी ले सकती हैं।
केला अनन्नास और कीवी खाएं
जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान सूजन की भी समस्या होती है वो आहार में केला, अनन्नास और कीवी जैसे फलों को शामिल कर सकती हैं। इन फलों में ब्रोमेलैन एंज़ाइम पाया जाता है जो सूजन को दूर करने में सहायता करता है और दर्द से आराम दिलवाता है।
अंडे को भी आहार में करें शामिल
अंडा प्रोटीन, विटामिन बी-6, विटामिन-डी और विटामिन-ई का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। अगर आप मांसाहारी हैं तो पीरियड्स के दौरान क्रैम्प, दर्द और एेंठन के निदान के लिए अंडे खा सकती हैं।

इन सभी खाद्य पदार्थों का सेवन करके पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द और ऐंठन को काफ़ी हद तक कम कर सकते हैं। यदि फिर भी दर्द और ऐंठन है तो डॉक्टर से परामर्श लेना आवश्यक है क्योंकि ऐंठन कितनी गंभीर है ये चेकअप के बाद ही बताया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...