क्यारी:बगिया की बहार हमेशा बरकरार रखी जा सकती है, जानिए इस लेख के ज़रिए

शम्पा सेनगुप्ता10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाग़वानी आसान नहीं है। इसमें समय व देखभाल दोनों की ही ज़रूरत पड़ती है।
  • ऐसे में यदि कुछ तरक़ीबें हाथ लग जाएं तो ये काम आसानी से किया जा सकता है। जैसे अच्छे बीज की पहचान करना, घर पर कीटनाशक तैयार करना, पौधों को सूखने से बचाना आदि।

अच्छे व खराब बीज की पहचान करने के लिए कांच के गिलास में पानी भर लंेे व उसमें बीज डालकर 5 मिनट के लिए रख दें। सभी अच्छे बीज नीचे बैठ जाएंगे व खराब बीज ऊपर आ जाएंगे।

पौधों को कीड़ों से बचाने के लिए एक लहसुन व एक प्याज़ को बारीक काट लें। इनमें एक बड़ा चम्मच मिर्च पाउडर व एक कप पानी डालकर 12 घंटे के लिए रख दें और फिर इस मिश्रण को छानकर स्प्रे बॉटल में भर लें। इसे 2-3 दिन में एक बार पौधों पर स्प्रे कर दें।

मनी प्लांट के पत्तों को बड़ा करने के लिए मनी प्लांट की जड़ के साथ मॉस या कॉयर स्टिक को लगा दें। जब भी मनी प्लांट में पानी डालें तो कॉयर स्टिक में भी पानी डाल दें। इससे पत्तों की बढ़त अच्छी होगी।

अगर पौधों को जल्दी उगाना चाहते हैं तो उन्हें लगाते समय उनकी जड़ों में या पास में एक छोटा-सा केले का या ऐलोवेरा का टुकड़ा लगा दें, ये फर्टिलाइज़र की तरह काम करता है। जब भी सब्ज़ियों को उबालें तो उनका पानी फेंकने की बजाय पौधों में डाल दें। इसी तरह दाल-चावल को धोकर उनका पानी भी पौधों में डालें। इससे पौधों की बढ़त जल्दी होती है।

गर्मी के कारण पौधों का पानी बहुत जल्दी सूख जाता है जिसके कारण पौधों के सूखने व झुलसने की आशंका अधिक रहती है। पौधों को बचाने के लिए गमले में थोड़ी-सी जगह बनाकर गमले की तली के नीचे स्पॉन्ज का टुकड़ा रख दें। इससे ये पानी सोख लेगा और मिट्टी जल्दी नहीं सूखेगी।

चाय बनाने के बाद जो चाय पत्ती बचती है उसे फेंकने के बजाय गमले में डाल दें। किंतु पहले चाय पत्ती को दो-तीन बार पानी से धो लें ताकि शक्कर का असर खत्म हो जाए। पत्ती पौधों के लिए खाद का काम करती है।

पौधों को फंगस से बचाने के लिए 1 कप पानी में 1 बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा मिलाकर पौधों पर छिड़काव करें।

घर पर खाद बनाने के लिए

एक कांच की बरनी में एक केले का छिलका डालकर उसमें पानी भर दें। रातभर के लिए रख दें व सुबह उस पानी को पौधों में डाल दें। इससे पौधों की अच्छी बढ़त होती है।

खबरें और भी हैं...