पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अहा! ज़िंदगी:अहा! ज़िंदगी के सितम्बर अंक की चुनिंदा स्टोरीज़ पढ़ें सिर्फ़ एक क्लिक पर

12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हल्की-सी लिपस्टिक महिलाओं को निराशा से निकाल सकती है और दाढ़ी बनाने का छोटा-सा काम पुरुषों के मन में उत्साह भर सकता है...

अपने पहनावे में छोटा-सा बदलाव भी आपके जीवन पर बड़ा असर डाल सकता है

महानगर की भीड़ में अगर निसर्ग का एक कोना मिल जाए तो व्याकुल मन के लिए वही एक आलम्बन बन जाता है...

महानगर की भीड़ में भी शांति और तल्लीनता खोजने पर मिल ही जाती है

आपने आम, अमरूद, जामुन आदि से लदे पेड़ तो देखे होंगे, लेकिन कभी एक ही पेड़ पर 40 तरह के फलों को लदे देखा-सुना है?

इस एक पेड़ में लगते हैं बादाम, चेरी, आडू जैसे 40 तरह के फल, जाना जाता है ट्री ऑफ़ 40 के नाम से

वॉलेट में सिर्फ़ रुपए नहीं होते, उसमें प्यार और परवाह भी रखी होती है, और कभी-कभी एक टीस भी...

पिता और पुत्र के कोमल रिश्ते का नज़दीक से अध्ययन करती कहानी 'वॉलेट'

समाधि का अर्थ अक्सर मृत्यु से जोड़कर देखा जाता है, लेकिन यह एक अलग ही आध्यात्मिक अवस्था है...

समाधि का अर्थ मृत्यु जैसी परिस्थिति नहीं होता, हर एक चीज़ को एक जैसा देखना ही समाधि है - सद्‌गुरु

महर्षि वाल्मीकि भारतीय ऋषि परम्परा के वे महापुरुष हैं जिन्हें विश्व का पहला कवि होने का गौरव प्राप्त है...

आदिकाव्य रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि हैं विश्व के पहले कवि, शोक से रचा था पहला श्लोक

खबरें और भी हैं...