पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वर्ण-दृष्टि:शांत स्मृति के साथ अतीत को गले लगाना और कामना भरे प्रेम के साथ भविष्य का आलिंगना करना ही नया जीवन है

डॉ. जोसेफ़ मर्फ़ी15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जो बीत गई, सो बात गई। वह सिर्फ़ एक स्मृति है। उसके लिए कुढ़ने या उसे नकारने का कोई लाभ नहीं।उसे शांतचित्त से स्वीकार करें।
  • आने वाला कल भविष्य है। उसे डर के काले चश्मे से न देखें। विश्वास करें कि - आगामी कल अद्‌भुत ही होगा।
  • और ये दोनों काम आपको आज में करने हैं : शांत स्मृति के साथ अतीत को गले लगाना और कामना भरे प्रेम के साथ भविष्य का आलिंगन करना। यही है आपका नया जीवन!

आगे देखना हमारी आंतरिक, असीमित बुद्धिमत्ता के ज़रिए अपनी आंतरिक योजनाओं व उद्देश्यों को साकार करने और प्रदर्शित करने की कला है। यह हममें से प्रत्येक के भीतर सृजनात्मक तथा उपचारक उपस्थिति को प्रेरित करता है।

आगे देखना जीवन के महान सिद्धांतों के साथ सहयोग करने और उनके सामंजस्य में जीने की कला है— कि सारी चीज़ें शाश्वत, असीमित मन से आती हैं, जिसे प्राचीन लोगों ने ‘दैवी शक्ति’ कहा था। यानी प्रेममय ईश्वर की जीवंत उपस्थिति।

आगे देखना कला का एक रूप है, जिसे वेब्स्टर ने इस तरह कहा है, ‘एक व्यक्तिगत सृजनात्मक शक्ति, जिसका विश्लेषण नहीं किया जा सकता— योग्यता और सृजनात्मक कल्पना का चेतन इस्तेमाल।’ कल्पना उस महानतम शक्ति की बदौलत सृजनात्मक है, जो कभी रही थी, है और होगी— असीमित, सृजनात्मक उपस्थिति जिसे हम ईश्वर कहते हैं— जो हमेशा हमारे आंतरिक चित्रों और विचारों की प्रकृति के अनुरूप हम पर प्रतिक्रिया करती है।

ख़ुद से पूछकर उजागर करें— ‘भविष्य के बारे में मैं क्या कल्पना करता हूं, महसूस करता हूं और विश्वास करता हूं?’ ये युगों पुराने, शाश्वत प्रश्न हैं। हम कई बार चकराकर पूछते हैं: ‘भविष्य के गर्त में मेरे लिए, मेरे प्रियजनों, मेरे कारोबार या पेशे के लिए क्या है? मेरा क्या होगा?’ ये अपने आप कई और प्रश्नों को जन्म देते हैं: ‘क्या भाग्य या पहले से तय प्रारब्ध जैसी चीज़ें हैं? क्या ईश्वर मेरे भविष्य के लिए ज़िम्मेदार है? या क्या हम इस बारे में कुछ कर सकते हैं कि हमारे साथ कल क्या होगा? क्या हम ज़िम्मेदार हैं?’

हर सोचने वाला और परवाह करने वाला व्यक्ति ये प्रश्न पूछता है : जो पूरी तरह वैध हैं— और जवाब सत्य में उपलब्ध हैं। वे इस समय हमें पुकार रहे हैं, अपने ख़ुद के मन और हृदय के भीतर से— और हम सुनने तथा सृजनात्मक तरीक़ों से प्रतिक्रिया करने में सक्षम हैं।

बुनियादी तौर पर केवल दो तरीक़े हैं, जिनसे हम आने वाले कल यानी भविष्य के बारे में विचार कर सकते हैं: डर से या असीमित और शाश्वत सिद्धांतों में विश्वास के साथ, जो कभी नहीं बदलते हैं। भविष्य के हमारे व्यक्तिगत दृष्टिकोण या अनुभूतियां डर (और यह भावना कि हम हक़दार नहीं हैं और पापी हैं) और विश्वास के बीच का फ़र्क़ हैं; अपनी अद्भुत योग्यताओं, अंदरूनी गुणों, उदात्त गुणों और उदात्त आदर्शों में विश्वास, जो हममें से प्रत्येक के भीतर होता है और बाक़ी सबके भीतर भी होता है।

जब हम यह समझ लेते हैं और स्वीकार कर लेते हैं कि हमारे भाग्य, हमारी तक़दीर, हमारे सौभाग्य और हमारे भविष्य का नियंत्रण हमारे भीतर है, तो फिर हम पूर्णता और उपचार पा लेंगे, प्रेमपूर्ण ईश्वर की जीवंत उपस्थिति की अनुभूति कर लेंगे। भविष्य के गर्त में हमारे लिए यही है: इस वक़्त से बहुत ज़्यादा अद्‌भुत जीवन।

अपनी शब्दावली और बातचीत से ‘मैं डरा हुआ हूं, ग़रीब हूं, आदि’ को हटाने का संकल्प लें। क्योंकि इस तरह हम उसी आदर्श को नकार रहे हैं, जिसे हम व्यक्त करना चाहते हैं। विश्वास और आश्वस्ति की ताज़ा हवा से अग्नि को भड़काएं। मन ही मन मनन करें, मैं हूं और चिंगारी लपट बन जाएगी— हमारे भीतर की धधकती ज्वाला जो हमारी हर गतिविधि और हर मामले को प्रकाशित करती है, हमेशा हमारी राह को प्रकाशित करती है।

कल और कुछ नहीं, बल्कि आज की स्मृति है और आने वाला कल आज का स्वप्न है। आइए, आज शांत स्मृति के साथ अतीत को गले लगाएं और कामना भरे प्रेम के साथ भविष्य का आलिंगन करें।

— पुस्तक ‘दौलत और सफलता की राह’ के सम्पादित अंश, – प्रकाशक ‘मंजुल पब्लिशिंग हाउस’

नई शुरुआत के लिए जानें अपना उद्देश्य
मनुष्य के लिए सबसे अच्छी सच्चाई यह है कि वह जिस पर अपना मन बना ले, वह जो चाहे, पा सकता है। कठिनाई यह नहीं कि वह अक्षम है, बल्कि यह है कि वह अपने लक्ष्य के बारे में स्पष्ट राय नहीं रखता। अधिकतर लोग अपने जीवन का उद्देश्य ही नहीं समझ पाते। यदि उद्देश्य ही नहीं होगा तो योजना भी नहीं होगी।
—फिल टेलर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser