पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अच्छी खबर:मेडिकल जर्नल लैंसेट का अध्ययन, कोरोना महामारी में आत्महत्या के मामले बहुत कम हुए

11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मई 2020 में आस्ट्रेलियन मेडिकल एसोसिएशन (एएमए) ने अनुुमान लगाया था कि कोविड-19 महामारी से आत्महत्याओं में 25% बढ़ोतरी होगी। कुछ स्थितियों में तो वायरस से अधिक मौतें आत्महत्याओं से हो सकती हैं। सौभाग्य से ये अनुमान सही नहीं निकले हैं। 21 देशों की स्टडी में पाया गया कि 2019 के मुकाबले 2020 में आत्महत्याओं में 11% तक गिरावट आई है।

मेडिकल जर्नल लैंसेट में प्रकाशित स्टडी के अनुसार अप्रैल और जून 2020 के बीच जितनी आशंका थी उससे 10% कम लोगों ने खुद जान दी है। इस अवधि में 2019 की तुलना में 7 % कम लोगों ने स्वयं मरने का रास्ता चुना। जापान में 2009 के बाद आत्महत्याओं में पिछले साल आए उफान को देखते हुए सरकार ने मिनिस्टर ऑफ लोनलीनैस की नियुक्ति की थी। हालांकि, 2021 की पहली तिमाही में जापान में आत्महत्याओं की दर महामारी से पहले के स्तर पर पहुंच गई। अन्य देशों के ताजा आंकड़े भी आत्महत्याओं में किसी तरह की बढ़ोतरी नहीं दर्शाते हैं। इंग्लैंड में आत्महत्याओं की दर में 12% गिरावट रिकॉर्ड की गई है। अमेरिका के बीमारी नियंत्रण और रोकथाम सेंटर ने 2020 में देश में 6 % की कमी दर्ज की है।

केवल कुछ विकासशील देशों जिनमें आर्थिक आघात सहने की क्षमता कम होती है, ने ही 2020 के आंकड़े जारी किए हैं। मलावी में पिछले साल आत्महत्याओं में 52 % वृद्धि हुई है। वैसे, देश में कोविड-19 महामारका प्रकोप गंभीर नहीं रहा। कड़ा लॉकडाउन लागू नहीं किया गया पर उसकी अर्थव्यवस्था में भारी गिरावट आई है। इसलिए लोगों की मानसिकता पर वित्तीय मदद के प्रभाव का सटीक अनुमान लगाने के लिए उन देशों से अधिक जानकारी आने की जरूरत है जहां सामाजिक सुरक्षा की स्थिति कमजोर है।

सरकारी मदद का सहारा
आत्महत्या की दर में गिरावट से पता लगता है कि बड़े पैमाने पर शोक से लोग व्यक्तिगत स्तर पर दुखी नहीं होते हैं। एक अन्य कारण महामारी के दौरान कुछ अमीर देशों में लोगों को सरकारों से मिली सहायता भी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें