पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

द इकोनॉमिस्ट:पढ़िए, द इकोनॉमिस्ट की चुनिंदा स्टोरीज सिर्फ एक क्लिक पर

8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

1. अमेरिका में मौसम के भीषण तेवरों से जुड़ी घटनाएं बढ़ी हैं। टैक्सास में गैस से चलने वाले बिजलीघर, परमाणु रिएक्टर और हवा से बिजली बनाने वाले टर्बाइन तक ठप पड़ गए थे। लंबे ब्लैकआउट की स्थिति बन गई थी। इस घटना ने अमेरिका में स्वच्छ और अधिक टिकाऊ ग्रिड की जरूरत पर जोर दिया है। पर्यावरण संरक्षण को लेकर क्या कदम उठा रहे हैं दुनिया के बाकी देश, जानने के लिए पढ़ें पूरा लेख...
दस वर्षों में गैसों का उत्सर्जन 16 फीसदी बढ़ा ; इसमें कोयला, पेट्रोल, डीजल और सीमेंट उत्पादन की प्रमुख भूमिका

2.भारत में बहुत कम संख्या में महिलाओं के पास नौकरियां हैं। अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन का कहना है, 2019 में केवल 20% महिलाओं के पास जॉब था या वे जॉब की तलाश कर रही थीं। कोरोना महामारी के दौरान महिलाओं को सबसे पहले जॉब गंवाना पड़ा। नौकरियों में उनकी वापसी भी देर से हुई है। देश में महिलाओं को लेकर क्या कहता है जॉब मार्केट, जानने के लिए पढ़ें पूरा लेख...
भारत में केवल 7 फीसदी शहरी महिलाओं के पास नौकरियां, बेरोजगारी के बाद नौकरी पर बहाल होने के अवसर भी कम

3.कई विशेषज्ञ मानवीय अस्तित्व के लिए स्पर्श को जरूरी मानते हैं। मियामी यूनिवर्सिटी में टच रिसर्च इंस्टीट्यूट की डायरेक्टर टिफैनी फील्ड कहती हैं, भोजन और पानी के समान मानव अस्तित्व के लिए स्पर्श भी आवश्यक है। पिछले साल अप्रैल में 260 अमेरिकियों के सर्वे में 60% लोगों ने बताया कि वे शारीरिक संपर्क के लिए बेचैन थे। क्या कहता है अध्ययन, जानने के लिए पढ़ें पूरा लेख...
स्पर्श की कमी से कई शारीरिक समस्याएं, महामारी ने लोगों को मानव स्पर्श की अहमियत महसूस कराई

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

और पढ़ें