टिप्स:इन 4 कारणों से अक्सर लोग गलत नौकरी का चुनाव कर लेते हैं

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लोग जानते हैं कि वो अपनी नौकरी से क्या चाहते हैं फिर भी क्यों अक्सर अपने लिए सही काम नहीं चुन पाते...

आमतौर पर लोग इस बात को लेकर बेहद स्पष्ट रहते हैं कि वो अपनी नौकरी से क्या चाहते हैं। इसके बावजूद ऐसा क्यों होता है कि लोग नौकरी चुनते हुए गलत फैसले ले लेते हैं? ये हैं वो 4 कारण जिनकी वजह से लोग नौकरी चुनने में अमूमन गलती कर देते हैं।

जब पैसा बोलता है, तो लोग सुनते ही हैं
शोध बताते हैं कि सैलेरी व जॉब सेटिस्फेक्शन के बीच कोई संबंध नहीं होता। जो वकील साल में करोड़ रुपए कमाते हैं वो भी अपनी नौकरी से उतने ही संतुष्ट हैं जितना एक नर्स लाख रुपए कमाकर खुश है। भले ही लोग बोलें कि वो काम कम करने के लिए या मन की नौकरी पाने के लिए आय कम करने को तैयार हैं, तो भी वो सही चुनाव नहीं कर पाते हैं।

अनजाने डर से जाना-पहचाना दुश्मन अच्छा है
बात जब नौकरी या करियर बनाने की हो तो कहा जा सकता है कि लोग ‘अनजाने डर से जाना-पहचाना दुश्मन अच्छा’वाली रणनीति के आधार पर काम करते रहते हैं। हो सकता है लोग कई सालों से बेमतलब की नौकरी में लगे हों या बेहद खराब मैनेजर्स के नीचे काम रहे हों लेकिन फिर भी वो कुछ नया करने से घबराते हैं, हिचकिचाते हैं।

आत्म-जागरुकता की कमी से गलत चुनाव
लोग अक्सर अपने टैलेंट को नहीं पहचान पाते। आमतौर पर जो लोग किसी के नीचे नौकरी नहीं करना चाहते, जो ये चाहते हैं कि अपना ही कुछ काम करें, वो अक्सर बहुत ज्यादा मेहनत के बदले बहुत थोड़े पैसे कमाते हैं। वो ये नहीं समझते कि पारंपरिक नौकरी करके या दूसरे के लिए काम करके वो ज्यादा सफल और ज्यादा खुश रह सकते थे।

अपेक्षाओं को समझना मुश्किल हो जाता है
सफल हायरिंग प्रक्रिया के अंतर्गत सही काम के लिए सही व्यक्ति का चुनाव बहुत जरूरी है। इसका मतलब है कि आवेदक को अपने काम के बारे में पूरी जानकारी और समझ होनी चाहिए। अगर आपकी काम को लेकर कोई गलत धारणा है या अवास्तविक उम्मीदें हैं तो करियर में आगे बढ़ना और सही चुनाव करना बहुत मुश्किल हो सकता है।

खबरें और भी हैं...