सेल्फ हेल्प:सही काम से विश्वास और उत्साह पैदा होगा

17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • किताबों से जानिए जीवन में क्यों जरूरी हैं अच्छी आदतें और नए विचार...

गलत काम कभी उत्साहित नहीं करेगा

जब आपके मन में पूरा विश्वास होता है कि आप जो कर रहे हैं वो ही है तो भावनात्मक जुड़ाव अपने आप होगा।अगर आप जानते हैं कि आप जो कर रहे हैं वो गलत है तो आप उसे लेकर उत्साहित नहीं होते। आपको अपने शब्दों और कार्यों में विश्वास होना चाहिए। उत्साह विश्वास से उत्पन्न होता है। आवाज में जोश भरें, उत्साह पैदा करें। ज्ञान से भी उत्साह पैदा होता है। (ओवरकम यॉर विलेन्स)

सफलता चाहते हैं तो लोगों को प्रेरित करें

सफलता आपकी प्रेरणा देने की क्षमता पर भी निर्भर करती है। जब आप केवल मौखिक निर्देश देते हैं तो परेशानी हो सकती है। लेकिन यदि आप काम करके दिखाते हैं तो आसानी से समझ में आता है। लोगों की तारीफ करना और यह दर्शाना कि वो महत्वपूर्ण हैं उन्हें तुरंत प्रेरणा देता है। लोगों की तारीफ करने से आपको वह पाने में मदद मिलती है जो आप चाहते हैं। हमेशा लोगों को प्रेरित करें। (डेयर टू लीड)

अच्छी आदतों के साथ जीना आसान है

आदतें वो अच्छी हैं जो आपकी मदद करें। जिनसे जीवन खुशहाल बने। आदतें जब खुशी की राह में बाधक बन जाएं, तो आपको उन्हें सुधारना चाहिए। सफलता और असफलता, खुशी और दुख काफी हद तक आदतों के ही परिणाम हैं। बुरी आदतें डालना आसान है, लेकिन उनके साथ जीना मुश्किल है। अच्छी आदतें डालना मुश्किल है, लेकिन उनके साथ जीवन जीना बहुत आसान हो जाता है। (रिच हैबिट्स)

नए विचारों का हमेशा स्वागत कीजिए

रचनात्मक सोच की सबसे बड़ी दुश्मन है पारंपरिक सोच। पारंपरिक सोच दिमाग पर धूल जमा देती है, प्रगति को रोकती है, रचनात्मक शक्ति को विकसित नहीं होने देती। पारंपरिक सोच से जूझने के तीन तरीके हो सकते हैं। नए विचारों का स्वागत कीजिए, प्रयोगशील और प्रगतिशील बनिए। मानवीय कामों में पूर्णता संभव नहीं है। हर काम में सुधार की गुंजाइश हमेशा ही बनी रहती है। (द पावर ऑफ पॉजिटिव थिंकिंग)

खबरें और भी हैं...