टिप्स:सही लक्ष्य पर फोकस करने के लिए आप यह तरीके अपना सकते हैं

20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हम सभी इस बात से बहुत अच्छी तरह वाकिफ हैं कि एक ही समय पर बहुत सारे लक्ष्य रखने के कई नुकसान हो सकते हैं। लेकिन फिर हमें यह कैसे पता चलेगा कि सबसे पहले कौन-से लक्ष्य पर फोकस करना चाहिए? इन चार तरीकों को अपनाकर कुछ हद तक आप यह मालूम कर सकते हैं कि सही दिशा में मेहनत कर रहे हैं या नहीं। साथ ही यह भी ध्यान रख सकते हैं कि कहां आपको रणनीति बदलना है जिससे कि आपकी कड़ी मेहनत का फल मिल सके।

1) कंपनी के विज़न-अनुसार अपना लक्ष्य तय करें
अगर आप एक कर्मचारी हैं, तो अपने बॉस से यह पूछें कि इस साल का सबसे महत्वपूर्ण लक्ष्य क्या होना चाहिए। अगर आप किसी कंपनी के लीडर हैं, तो आने वाले कुछ सालों की रणनीति तय करें। उदाहरण के तौर पर अगर अगले तीन साल तक के लिए आपका मुख्य उद्देश्य या मुख्य लक्ष्य केवल व्यवसाय की सेल्स को बढ़ाने का है तो आपको इस साल से ही तैयारी शुरू करनी होगी।

2) दूरदृष्टि रखें, ‘गोल टाइमलाइन’ बनाएं
अपने तय किए हुए लक्ष्य को हासिल के लिए दूरदृष्टि रखना चाहते हैं, तो क्रोनोलॉजिकल ऑर्डर में चीजें तय करते चले जाएं। लॉन्ग-टर्म प्लान के बारे में भी विचार करें। साथ ही यह भी विचार करें कि इस प्लान को लागू करने के लिए आपको किन चीजों को बदलना पड़ सकता है और किन चीजों को लागू करना पड़ सकता है। इस तरह से एक ‘गोल टाइमलाइन’ तैयार करें।

3) अपना ‘की-स्टोन’ लक्ष्य जरूर तय करें
अक्सर ऐसा होता है कि एक लक्ष्य को हासिल करने के बाद ही आपके अंदर किसी भी अन्य लक्ष्य को हासिल करने का आत्मविश्वास आ जाता है। उदाहरण के तौर पर बड़े-बड़े प्रकाशन के लिए लिखते रहने से आपको कोई कंसल्टिंग बिजनेस हासिल करने, स्पीच देने के प्लेटफॉर्म हासिल करने या किताबों की सेल्स बढ़ाने में हर जरूरी मदद मिल जाती है। इसलिए अपना ‘की-स्टोन’ लक्ष्य जरूर तय करें।

4) निर्धारित समय के लिए लक्ष्य पर फोकस करें
अगर आपको ऐसा महसूस होता है कि आप ज्यादा कुछ नहीं कर पा रहे हैं या सही दिशा में काम नहीं कर रहे हैं तो ऐसे में आप अपने लिए ‘चर्न एंड बर्न’ फिनोमिना क्रिएट कर सकते हैं। हो सके तो ‘विलफुल मायोपिया’ को भी विकसित करें और खुद को एक निर्धारित समय के लिए केवल एक ही लक्ष्य पर फोकस करने के लिए बाध्य करें। यह समय 6-8 महीने का भी हो सकता है।

खबरें और भी हैं...