पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Madhurima
  • Festivals In Other States Will Change With Lohri And Makar Sankranti, Food Will Change

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आहार-विहार:लोहड़ी और मकर संक्रांति के साथ मनेंगे अन्य राज्यों में त्योहार, बदलेंगे आहार और विहार

अमिता सिंहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मकर संक्रांति और लोहड़ी के साथ-साथ इस दिन अन्य राज्यों में भी पर्व मनाए जाते हैं।
  • इसके साथ खान-पान बदलेगा, जो पौष्टिक भी है और स्वादिष्ठ भी।

दिन-रात अपने क़द की अदला-बदली करने वाले हैं। सूर्य अब प्रखर होंगे। इस मेल के साक्षी है लोहड़ी और मकर संक्रांति व इस दिन मनाए जाने वाले अन्य राज्यों के पर्व। अब खान-पान भी बदलेगा और विहार भी। तो चलिए देखते हैं कि कैसा है पर्व सम्मत आहार जो पौष्टिक भी है, और स्वाद-भरा भी।

मिला-जुला प्रसाद

लोहड़ी की रात यह प्रसाद अर्पित होता है और फिर भर-भर के इसे खाते हुए ख़ूब ख़ुशियां मनाई जाती हैं। इसमें शामिल होते हैं पॉपकॉर्न, मूंगफली, चावल के फुल्ले और गुड़-तिल की रेवड़ी। पौष्टिकता की दृष्टि से ये एक तरह से पूर्ण आहार हो जाता है क्योंकि मूंगफली, फुल्ले और पॉपकॉर्न के मिश्रण से प्रोटीन मिलता है, फुल्ले और तिल आयरन देते हैं, तिल से कैल्शियम, ओमेगा 3. ज़िंक आदि मिलते हैं। फुल्लों से विटामिन ए भी प्राप्त हो जाता है। मूंगफली और तिल फैट के भी अच्छे स्रोत हैं। मधुमेह के रोगी तिल की रेवड़ी की जगह प्रसाद में सादे तिल का सेवन कर सकते हैं।

गुड़ की रोटी

इस पर्व पर गुड़ की रोटी, दही भल्ले और लस्सी भी भोजन में शामिल किए जाते हैं। सभी प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन ए और ऊर्जा से भरपूर खाद्य हैं। विटामिन ए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में आवश्यक है, जो ठंड के मौसम के लिए ज़रूरी है, सो इसके बेहतरीन स्रोत मक्के की रोटी और सरसों के साग को इन दिनों ख़ूब खाया जाता है।

खिचड़ी

मकर संक्रांति पर खिचड़ी बनाई जाती है, इसमें कई सब्ज़ियां डाली जाती हैं। दाल और चावल के मिश्रण से आवश्यक प्रोटीन मिलता है तथा सब्ज़ियों से सूक्ष्म पोषक तत्व, विटामिन व खनिज मिल जाते हैं। इस खिचड़ी को सम्पूर्ण रुप से पौष्टिक बनाने के लिए वसा ज़रुरी है, सो वो घी के रुप में मिलाकर जोड़ ली जाती है।

गुड़-तिल के लड्डू

संक्रांति पर तिल गुड़ खाने की परम्परा है। कहीं लड्डू आटे और तिल के बनते हैं, तो कहीं गुड़ में तिल और मूंगफली डालकर। कुल मिलाकर प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम और विटामिन के अच्छे स्रोत बन जाते हैं। मधुमेह के रोगियों के लिए इस पर्व पर कुछ मीठा बनाना हो, तो मूंगफली और तिल का मीठा बना सकते हैं, जिसे बांधने के लिए अंजीर को भिगोकर-कूटकर इस्तेमाल करें। इस मीठे का बहुत सीमित मात्रा में ही उपयोग करें, केवल त्योहर पर मुंह मीठा करने जितना।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें