पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कविता:'नव वर्ष नव मंगलम्' नए साल के मंगल को दर्शाती ये कविता पंक्ति दर पंक्ति

निशा नंदिनी भारतीयएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नव वर्ष नव मंगलम् भुवन मंडले मंगलम्। गगन मंडलं मंगलम् नव वर्ष नव मंगलम्।

देवकीपरमानंदम् आनंदामृतवर्षकम् धरणीम् भरणीम् मंगलम्। नव वर्ष नव मंगलम् भुवन मंडले मंगलम्।

लोकहितम् करणीयम् सुख सागरम् मंगलम्। सदा सततं वंदनीयम् सुजलां सुफलां मंगलम्। नव वर्ष नव मंगलम् भुवन मंडले मंगलम्।

पंचभौतिकं विज्ञानम् भक्ति ज्ञान कर्म मंगलम्। सदा शिवं स्वरूपम् निष्ठायाम् मंगलम्। नव वर्ष नव मंगलम् भुवन मंडले मंगलम्।

कार्यक्षेत्रे त्वरणीयम् धर्म बोधकम् मंगलम्। दुखसागरे तरणीयम् नवयुग नववर्ष मंगलम्। नववर्ष नव मंगलम् भुवन मंडले मंगलम्।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें