पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पक्षी विज्ञान के विशेषज्ञों की रोचक रिसर्च:मादा हमिंगबर्ड प्रताड़ना से बचने के लिए नर जैसा रूप बना लेती हैं

12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हरे रंग और सफेद गर्दन वाली मादा जेकोबिन हमिंगबर्ड को ढेरों काम करना पड़ते हैं। जब वह अंडे देती है तब गर्भधारण में समान भूमिका निभाने वाला नर आसपास तक नहीं फटकता है। मादा घंटों मेहनत कर अंडों के लिए घोसला बनाती है। वह अकेले बच्चों को खिलाती-पिलाती है।

फिर भी, उसे लगातार नर की प्रताड़ना से जूझना पड़ता है। रस चूसने के लिए फूलों पर मंडराती मादा का आक्रामक नर पीछा करते हैं। उसे टक्कर मारते हैं। उनके सिर नीले रंग के होते हैं। लेकिन, मेक्सिको, ब्राजील सहित कई देशों में पाई जाने वाली सफेद गर्दन की हरी जेकोबिन के पास हमलावर नरों से बचने का तरीका है।

वे चमकीले नीले पंखों को सामने कर हरा रंग छिपा लेती हैं। वे नर हमिंगबर्ड जैसी दिखती हैं।

करेंट बायोलॉजी जर्नल में प्रकाशित एक शोधपत्र में वैज्ञानिकों ने पाया कि नर जैसी दिखने वाली हरी मादा परेशानी से बच जाती हैं। वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के रिसर्चर डॉ. जे फाल्क ने कोरनेल पक्षीविज्ञान लैब और स्मिथसोनियन रिसर्च इंस्टीट्यूट के छात्रों के साथ यह रिसर्च की है।

मादाओं का बदलता रंग लंबे समय तक रहस्य के दायरे में रहा। डा. फाल्के ने गंबोआ, पनामा में रिसर्च पाया कि लगभग 28 प्रतिशत मादाएं नीले सिर वाले नर से मेल खाती हैं। सभी युवा मादाओं में नरों जैसे नीले चमकदार पंख हैं। आयु बढ़ने के साथ अधिकतर मादाओं का रंग हरा हो जाता है। नीले पंखों वाली मादाओं की ओर नर हमिंगबर्ड आकर्षित नहीं होते हैं। वे उन्हें नर समझते हैं।

जेकोबिन्स और अन्य प्रजाति की चिड़िया नीली मादाओं और नरों की तुलना में हरी मादाओं के प्रति अधिक आक्रामक होती हैं। शोधकर्ताओं ने सफेद गर्दन की जेकोबिन के फुटेज की जांच में पाया कि नीले सिर वाले पक्षियों के मुकाबले हरे पंख की मादाओं का दस गुना अधिक पीछा किया गया।

नीले सिर वाली मादाओं को सुविधा भी अधिक मिलती है। हरी मादाओं के मुकाबले उन्होंने भोजन के स्थान की तरफ ज्यादा रुख किया। नरों के हमले से बचने की वजह से उनका दाना चुगने का समय भी अधिक रहा।

सबरीन इंबलर

खबरें और भी हैं...