पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अमेरिकी सिखों के बीच भय की लहर:चार सिखों के हत्यारे की मानसिक स्थिति से उसकी मां चिंतित थी

11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने पिछले साल गन जब्त की तो उसने दो राइफल खरीद ली

इंडियाना पोलिस में गुरुवार को माल डिलीवरी कंपनी फेडएक्स के ऑफिस में चार सिखों सहित आठ लोगों की हत्या करने वाले 19 साल के ब्रेंडन होल पर पुलिस की नजर थी। युवक की मां उसकी मानसिक स्थिति से चिंतित थी। उनके सूचना देने के बाद मार्च 2020 में पुलिस ने उसकी शॉटगन जब्त कर ली थी। पुलिस प्रमुख रेंडल टेलर ने बताया इसके बाद उसने हमले में इस्तेमाल दो सेमीऑटोमैटिक राइफल वैधानिक तौर पर खरीद ली। मां की चेतावनी और पुलिस के गन जब्त करने के बाद भी अधिकारियों ने उसे खतरा नहीं माना। वैसे, इंडियाना के कानून में यदि कोई व्यक्ति अदालत में खतरनाक साबित हो जाता है तो उस पर फायर आर्म्स रखने का प्रतिबंध लगता है। टेलर का कहना है, उन्हें यह जानकारी नहीं है कि होल का मामला अदालत में गया था या नहीं। वैसे, पुलिस ने होल की शॉटगन नहीं लौटाई थी।

इस जनसंहार से अमेरिकी सिखों के बीच भय की लहर दौड़ गई है। उन्हें कई वर्षों से पगड़ी पहनने के कारण शिकार बनाया जा रहा है। गुरुदारों पर भी हमले हो चुके हैं। 1960 में इंडियाना आए कंवल प्रकाश सिंह का कहना है, पूरा सिख समुदाय स्तब्ध है। गुरुद्वारा के ज्ञानी 29 साल के सुखविंदर सिंह कहते हैं, हम नहीं जानते कि यह जानबूझकर किया गया या अनायास है। इंडियाना पोलिस में शनिवार को गुरुद्वारों में सिखों ने एकत्र होकर मृतकों के लिए प्रार्थना की।

तीन लाख वर्गफुट में फैले फेड एक्स के गोडाउन और ऑफिस के 800 से अधिक कर्मचारियों में कई सिख शामिल हैं। हमले के शिकार जसविंदर सिंह अपनी पहली तनख्वाह को लेकर उत्साहित थे। वे ग्रीनवुड के गुरुद्वारे में रोज जाते थे। सब्जियां काटते थे, फर्श साफ करते थे और लोगों को खाना परोसते थे। हरजाप सिंह ढिल्लों बताते हैं, जसविंदर बहुत मिलनसार थे। शूटआउट में मारी अमरजीत कौर जोहल ने घटना के दिन आधे दिन की छुट्‌टी ली थी। वे परिवार के किसी व्यक्ति के जन्मदिन समारोह में जाने वाली थी। बिल्डिंग के बाहर घर जाने के लिए कार का इंतजार करते समय वे हमले की चपेट में आ गई।

इंडियाना पोलिस में दस गुरुद्वारे हैं

पिछले कुछ दशकों में इंडियाना पोलिस में सिखों की आबादी बढ़ी है। शहर और आसपास के उपनगरों में दस गुरुद्वारे हैं। हर साल सिख डे परेड होती है। सिख समुदाय के लोग भारत के अलावा अमेरिका के पूर्वी और पश्चिमी तट पर स्थित राज्यों से आते हैं। अमेरिका में 1980 के दशक से सिखों की संख्या बढ़ना शुरू हुई थी। अमेरिका में 9/11 हमले के बाद सिखों पर हमले की कई घटनाएं हुई थीं। अमेरिका में सिख समुदाय को किसी आपदा के समय लोगों की मदद करने के लिए जाना जाता है।

आंद्रेस मार्टिनेज, मिच स्मिथ, एलिसन सलढाना

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें