पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वर्क फ्रॉम होम से अमेरिका में स्थिति बदल रही:अमेरिका के छोटे शहरों में मकानों का निर्माण 15% बढ़ा

13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिल्डर ऐसे इलाकों में मकान बना रहे हैं जिन्हें पहले लोगों की पहुंच से दूर माना जाता था।

वायरस महामारी के बीच लंबी सुस्ती के बाद अमेरिका में मकान खरीदने में लोगों की दिलचस्पी बढ़ी है। खरीदार ब्याज दरों में गिरावट से फायदा उठाना चाहते हैं। वे बड़े शहरों से थोड़ी दूर बसने के लिए तैयार हैं।

इस वजह से अब नए मकानों का निर्माण 2006 के बाद सबसे अधिक हो रहा है। बड़े शहरों के मुकाबले छोटे शहरों में मकानों का निर्माण बढ़ा है। मकानों के मूल्य पिछले साल के मुकाबले 11.3% बढ़ गए हैं। कच्चे माल और मजूदरी की लागत बढ़ने से कीमतों में बढ़ोतरी जारी है।

बिल्डर ऐसे इलाकों में मकान बना रहे हैं जिन्हें पहले लोगों की पहुंच से दूर माना जाता था। कैलिफोर्निया सहित कई राज्यों में पुराने उपनगरों के आगे खुली जगहों, खेतों में नए उपनगर आकार ले रहे हैं। पिछले दशक में ऊंची तनख्वाह वाली नौकरियां कुछ बड़े शहरों में सीमित थीं।

सभी आय वर्ग के कामगार इन शहरों के पास ऐसी जगह रहना पसंद करते थे जहां आवाजाही आसान हो। छोटे शहरों और बड़े शहरों के बाहरी इलाकों में पर्याप्त जमीन है पर बिल्डरों को वहां खरीदार मिलना मुश्किल था।

अब एक साल के लॉकडाउन और घर से काम करने की सुविधा के कारण ऑफिस के पास रहने का आकर्षण कम हो गया है। इससे मकानों के निर्माण की नई शृंखला शुरू हो गई है।

नेशनल होम बिल्डर्स एसोसिएशन के अनुसार पिछले साल छोटे शहरों और उपनगरीय इलाकों में नए मकानों का निर्माण 15% बढ़ा है। बड़े शहरों में यह बढ़ोतरी 10% है। अमेरिकी बिल्डरों ने इस वर्ष 11 लाख सिंगल फेमिली होम का निर्माण शुरू कर दिया है। यह 2006 के बाद सबसे ज्यादा है। वैसे, 2005 में 17 लाख सिंगल फेमिली यूनिट का निर्माण हुआ था।

ध्यान रहे, 2006 में मकानों के निर्माण की अच्छी रफ्तार के बीच हाउसिंग बाजार ध्वस्त हो गया था। उसके बाद महामंदी की शुरुआत हुई थी।

महामंदी के बाद बिल्डर अधिक सतर्क हुए हैं। इसलिए अब मांग के अनुरूप मकानों की सप्लाई नहीं हो पा रही है। निर्माण पिछड़ने का एक कारण यह है कि जिन शहरों में अधिक मांग है, वहां मकान बनाना मुश्किल है। सरकारी आवास ऋण कंपनी फ्रेडी मेक का अनुमान है, अमेरिका में 2020 के अंत में मांग के हिसाब से 38 लाख मकान कम थे। यह कमी पहली बार मकान खरीदने वाले लोगों के लिए ज्यादा थी।

20% लोग घर से काम करेंगे

महामारी ने आर्थिक संरचना में बदलाव किया है। कैलिफोर्निया और अन्य स्थानों में पिछले साल हजारों लोग शहरों से भाग गए थे। इनमें से कुछ लोग लौटेंगे पर वे लोग वापस नहीं आएंगे जिन्हें घर से काम करने की सुविधा है। एक ताजा स्टडी ने बताया कि महामारी के बाद 20% लोग बाहर से काम करेंगे। महामारी के बीच आधे लोग घर से काम कर रहे थे।

अगर यह ट्रेंड जारी रहता है तो सिलिकॉन वैली, न्यूयॉर्क और अन्य स्थानों में कई कामगार छोटे शहरों में रहना पसंद करेंगे।

कोनोर डगहर्टी,बेन केसलमेन

खबरें और भी हैं...