सोशल मीडिया साइट का सौदा:टि्वटर के सौदे में मस्क के लिए कई जोखिम; कंपनी पर एक लाख करोड़ रु. का कर्ज चढ़ेगा

16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अमेरिका का दूसरा सबसे बड़ा सौदा होगा सामान्य नियमों से अलग हटकर हो रहा है

2007 में कंपनियों की अंधाधुंध खरीद के दौर में कोलबर्ग क्रेविस राबर्ट्स सहित प्राइवेट इक्विटी कंपनियों ने टेक्सास की एनर्जी कंपनी टीएक्सयू को 3.44 लाख करोड़ रुपए में खरीदा था। यह अमेरिका के इतिहास में अब तक इस तरह का सबसे बड़ा सौदा है। अब एक अकेले अरबपति इस रिकॉर्ड के पास बढ़ रहे हैं।

विश्व के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क ने कहा है कि वे टि्वटर को खरीदने के लिए 3.36 लाख करोड़ रुपए चुकाएंगे। अगर सौदा होता है तो यह अमेरिका का दूसरा सबसे बड़ा सौदा होगा। मस्क प्राइवेट इक्विटी के परंपरागत नियमों से अलग हटकर अपना खुद का पैसा लगा रहे हैं। हालांकि, वे 99 हजार 480 करोड़ रुपए का कर्ज भी ले रहे हैं। यह टि्वटर के खातों में ट्रांसफर होगा। मस्क कंपनियों की सामान्य खरीद की तुलना में अधिक कैश देंगे। इसके साथ वे टि्वटर पर अधिक कर्ज लादेंगे। सोशल मीडिया कंपनी के मामूली मुनाफे को देखते हुए कर्ज से मुश्किल हो सकती है। फ्री स्पीच के लिए मस्क के आग्रह से टि्वटर को कठिनाई हो सकती है।

साइट पर कंटेंट के मामले में ज्यादा छूट देने से गलत जानकारियां फैलेंगी। इससे टि्वटर की आमदनी का मुख्य स्रोत एडवरटाइजिंग प्रभावित होगा क्योंकि विज्ञापन दाता अपने ब्रांड को किसी तरह के ध्रुवीकरण, पक्षपातपूर्ण कंटेंट से नहीं जोड़ना चाहेंगे। कंपनी के पास अब तक आय का कोई बड़ा साधन नहीं है। विज्ञापन की आय कम होने से सात हजार कर्मचारियों वाली टि्वटर को ब्याज चुकाने में संघर्ष करना पड़ेगा। टि्वटर का अधिग्रहण मस्क के लिए बहुत बड़ा वित्तीय जोखिम हैै। निजी अंश पूंजी से खरीद करने वाले लोग आमतौर पर कैश की बजाय कर्ज के पैसे का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। टि्वटर की आर्थिक स्थिति बिगड़ने से मस्क के आर्थिक साधनों पर असर पड़ेगा।

अच्छा बिजनेसमैन होने की उनकी प्रतिष्ठा को भी चुनौती मिलेगी। चूंकि मस्क कैश जुटाने के लिए टेस्ला के शेयर बेच रहे हैं इसलिए टेस्ला का मूल्य टि्वटर के साथ जुड़ जाएगा। टि्वटर में कोई भी गड़बड़ी होने पर मस्क को अपनी इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी के शेयर बेचना पड़ेंगे। और टेस्ला में कोई समस्या होने की स्थिति में मस्क के निजी कर्ज के साथ शर्ते जुड़ेंगी। इस तरह उनकी टि्वटर में निवेश करने की क्षमता सीमित हो जाएगी। सौदे का ऑफर देने के एक दिन बाद टेड कांफ्रेंस में मस्क ने कहा, मैं पैसे के गणित की ज्यादा परवाह नहीं करता हूं। इंडस्ट्री में नए नियम गढ़ने वाले बिजनेसमैन ने कहा, टि्वटर का सौदा धन कमाने के लिए नहीं किया जा रहा है।

बहरहाल, मस्क के ऑफर पर अब शेयरहोल्डर मतदान करेंगे। रेगुलेटर भी समीक्षा करेंगे। सौदा पूरा होने में तीन से छह माह लगेंगे। अंत में मस्क का मूल्यांकन इस बात से होगा कि वे टि्वटर को कितना आगे बढ़ा पाते हैं। क्या उनकी अस्वाभाविक वित्तीय योजना टि्वटर के भविष्य को सुरक्षित करके आलोचकों को गलत साबित कर पाएगी या उनका ढेर सारा धन पानी में चला जाएगा?

टि्वटर की खरीद के लिए इस तरह भुगतान किया जाएगा

. एलन मस्क ने टि्वटर के 90 प्रतिशत शेयरों के लिए 4147 रु.(54.20 डॉलर) प्रति शेयर का ऑफर दिया है। . मस्क ने सौदे के लिए 3.55 लाख करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी कर रखी है। इसमें से 1.60 लाख करोड़ रुपए कैश देंगे। . कुछ कैश टेस्ला के शेयर बेचने से आएगा। सिक्योरिटी फाइलिंग के अनुसार मस्क ने पिछले सप्ताह टेस्ला के 61 हजार 278 करोड़ रुपए के शेयर बेचे हैं। . मस्क 12 बैंकों से टेस्ला के शेयरों पर 95654 करोड़ रुपए पर्सनल लोन के बतौर लेंगे। इस पर 4 प्रतिशत ब्याज लगेगा। . बाकी 99 हजार 480 करोड़ रुपए सात बैंकों से कर्ज लिया जाएगा। इसको चुकाने की जवाबदारी टि्वटर पर होगी। ऐसे कर्ज पर बैंक लगभग पांच से दस प्रतिशत तक ब्याज लगाते हैं। . टि्वटर की सालाना आय 7652 करोड़ रुपए है। विशेषज्ञों के अनुसार मामूली कैश कमाने वाली कंपनी के लिए यह कर्ज बहुत ज्यादा है।

© The New York Times

खबरें और भी हैं...