रिकॉर्ड बुक: 2021 में यह पहली बार हुआ:500 करोड़ रु में बिकी एनएफटी तो इंसानी दिमाग को कंप्यूटर से जोड़ने में मिली सफलता

15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डब्ल्यूटीओ की पहली महिला डीजी
मार्च में नाइजीरिया की गोजी ओकोन्जो इवेला विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ)की महानिदेशक बनीं। 66 वर्षीय इवेला ऐसा करने वाली पहली महिला और पहली अफ्रीकन हैं। वह नाइजीरिया में दो बार वित्त मंत्रालय भी संभाल चुकी हैं।

500 करोड़ रु में बिकी एनएफटी
मार्च में एवरीडेज़ : द फर्स्ट 5000 डेज़’ नाम की नॉन फंजिबल टोकन यानी एनएफटी आर्ट लगभग 500 करोड़ रुपए में बिकी। माइक विंकेलमान (बीपल) के इस डिजिटल कोलाज को भारत में जन्मे और सिंगापुर में बस गए उद्यमी विग्नेश सुंदरसेन और आनंद वेंकटेश्वरन ने खरीदा।

द फर्स्ट 5000 डेज़
द फर्स्ट 5000 डेज़

इंसानी दिमाग कंप्यूटर से जोड़ा
ये साल पहली बार स्पाइनल कॉर्ड की चोट से ग्रसित लोगों के लिए बदलाव वाला साबित हुआ। ब्राउन यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने ट्रांसमीटर उपकरण के लिए जरिए दिमाग को कम्प्यूटर से जोड़ा। सिर्फ कल्पना करके लोग अपने रोबोटिक अंगों में गति रख पाए।

बिटकॉइन लीगल करेंसी बनी
बिटकॉइन को अल-सल्वाडोर में जून में लीगल करेंसी का दर्जा मिला। ऐसा करने वाला यह दुनिया का पहला देश बना। अल सल्वाडोर में बिटकॉइन को लीगल करेंसी मान लिए जाने के बाद वहां इस पर कैपिटल गेन्स टैक्स नहीं लगेगा। वहां की सरकार ने क्रिप्टो एंटरप्रेन्योर्स को स्थायी तौर पर रहने की छूट देने का एलान भी किया है।

फिलीपींस पत्रकार को नोबेल
फिलीपींस की पत्रकार मारिया रेसा को संयुक्त रूप से शांति को नोबेल पुरस्कार मिला। रेसा ने फिलीपींस में राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतर्ते की सरकार के तानाशाही रवैये के खिलाफ अपने मीडिया ग्रुप ‘रैप्लर’ के जरिए पत्रकारिता की। वहीं रूस के पत्रकार दिमित्री मुरातोवको भी नोबेल मिला।

दो सकारात्मक पहल
यूरोप : ईवी ने बिक्री में डीजल गाड़ियों को पछाड़ा
यूरोपियन इलेक्ट्रिक कार रिपोर्ट के अनुसार सितंबर 2021 में पहली बार इलेक्ट्रिक गाड़ियों ने डीज़ल गाड़ियों को बिक्री के मामले में पीछे छोड़ दिया। विशेषज्ञों के मुताबिक जीरो उत्सर्जन प्रौद्योगिकी की तरफ लोग पूरी तरह शिफ्ट हो रहे हैं।

अफ्रीका : दुनिया का पहला थ्री-डी प्रिटेंड स्कूल खुला

अफ्रीका के मलावी में दुनिया का पहला थ्री-डी प्रिटेंड स्कूल शुरू हुआ। स्कूल 14 पेड़ों से बनाया गया। अफ्रीकी महाद्वीप स्थित देशों में बच्चों को प्राथमिक शिक्षा से जोड़े रखने के लिए स्कूलों की कमी को अब तकनीक से पूरा किया जा रहा है। इससे संसाधनों की कमी से जूझ रहे देशों में शिक्षा का अंतर पाटा जा सकता है।

खबरें और भी हैं...