पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रसरंग:पढ़िए, आज के रसरंग की सारी स्टोरीज सिर्फ एक क्लिक पर

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

1. शेयर बाज़ार की हलचल से क्या उस व्यक्ति का भी कोई सरोकार है जिसने आज तक कभी इसमें निवेश नहीं किया है? देश के हर व्यक्ति का इससे प्रत्यक्ष या परोक्ष संबंध क्यों है? लगातार चढ़ते शेयर बाज़ार के बीच करते हैं इसी की पड़ताल ...

शेयर बाज़ार : बढ़त से आम आदमी को भी क्यों खुश होना चाहिए?

2. ‘मिर्ज़ापुर’ वैसे तो कोई प्रेरक कहानी नहीं है, नकारात्मक घटनाओं से भरी पड़ी है, लेकिन इसमें प्रबंधन की कई बातें छिपी हुई हैं। बता रही हैं जानी-मानी फिल्म लेखिका, समीक्षक और इतिहासकार भावना सोमाया

मिर्ज़ापुर : एक लोकप्रिय वेब सीरीज़ में छिपे हैं कई सबक!

3. शिव अर्द्धनारीश्वर हैं। अर्द्धनारीश्वर की प्रतिमाओं की तुलना में उनकी कहानियां कम पाई जाती हैं। शिव अर्द्धनारीश्वर क्यों कहलाते हैं, इसकी दो कहानियां साझा कर रहे हैं प्राचीन भारतीय धर्मशास्त्रों के आख्यानकर्ता और लेखक देवदत्त पटनायक :

अर्द्धनारीश्वर भी क्यों कहलाते हैं भगवान शिव?

4. कुछ लोग बाहर से खूबसूरत न होते हुए भी बेहद आकर्षक क्यों लगते हैं? क्यों उनकी एक मुलाक़ात की स्मृति चुंबक की तरह हमारे दिलो-दिमाग के भीतर रह जाती है? ऐसी कौन-सी खूबियां हैं जो इंसान को आकर्षक बनाती हैं। बता रहे हैं मोटिवेशनल स्पीकर डॉ. उज्ज्वल पाटनी...

कुछ लोग चुंबक जितने आकर्षक क्यों होते हैं?

5. डायरेक्टर महबूब ख़ान भी अपना स्टूडियो चाहते थे। सो, बांद्रा के एक जंगलनुमा प्लाट को लेकर 1951 में सौदा हुआ और 1 मार्च 1952 को बाकायदा पूजा-पाठ के साथ रखा गया महबूब स्टूडियो की नींव का पहला पत्थर। एक तिलकधारी ब्राह्मण संस्कृत के श्लोक पढ़ता रहा और पांच वक़्त के नमाज़ी महबूब ख़ान और उनकी बीवी सरदार अख़्तर बिना एक भी लफ़्ज़ का मतलब समझे इस सारी रस्म के दौरान पूरे अदब के साथ शामिल रहे। ...

एक तिलकधारी ब्राह्मण ने रखी थी पांच वक़्त के नमाज़ी डायरेक्टर महबूब ख़ान के स्टूडियो की नींव

6. अपने जमाने के बड़े पत्रकार और साहित्यकार कुद्दूस सहबाई को छत्तीसगढ़ के एक राजा की छोटी बेटी रानी विजयरूप से मोहब्बत हो गई। लेकिन दोनों शादी के बंधन में नहीं बंध सके। इस राह में कैसी रुकावटें थीं, उनका अंदाज़ा क़ुद्दूस सहबाई की आत्मकथा 'मेरी रानी, मेरी कहानी' से होता है। इस बारे में बता रही हैं पाकिस्तान की जानी-मानी वरिष्ठ पत्रकार, लेखिका और स्तंभकार ज़ाहिदा हिना...

उदास कर देने वाली मुहब्बत की कहानी

7. हाल ही में ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज हुई वेब सीरीज ‘तांडव’ के भारी विरोध के बाद निर्माताओं ने इसके विवादित दृश्य को हटा दिया है। आमतौर पर विवाद के बाद भी निर्माता दृश्य नहीं हटाते। इसके पहले 14 वेब सीरीज पर विवाद हुए हैं, लेकिन अधिकतर मामलों में निर्माताओं ने विवादित दृश्यों के लिए माफी तो मांगी लेकिन दृश्य नहीं हटाए। पढ़िए वेब सीरीज विवादों की पूरी पड़ताल...

वेब सीरीज विवाद : पहले विवाद फिर निर्माताओं ने माफी मांगी, पर विवादित दृश्य नहीं हटाए

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें