पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टाइम 100 नेक्स्ट:कर्ज मुक्ति के सलाहकार, कोरोना में मददगार और नीति के पहरेदार..., 100 नेक्स्ट में से ये 8 चर्चित हैं

8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नई पीढ़ी के सितारों में भारतीय मूल की कई हस्तियां

कर्ज मुक्ति के सलाहकार, कोरोना में मददगार और नीति के पहरेदार..., 100 नेक्स्ट में से ये 8 चर्चित हैं-

टाइम मैग्जीन ने नई पीढ़ी की 100 हस्तियों की सूची में ऐसे लोगों को शामिल किया है जिन्होंने उजले भविष्य की उम्मीदें जगाई हैं। महामारी के दौर में वैज्ञानिकों, डॉक्टरों और कुछ लोगों ने बहुत महत्वपूर्ण काम किए हैं। इनमें लीडर, एक्टिविस्ट,आर्टिस्ट और इनोवेटर हैं तो लोगों की मदद करने वाले युवा भी हैं। सूची में भारतीय मूल के कई लोगों को जगह मिली है। यहां पेश है, आठ प्रभावशाली सितारों का ब्योरा-

65 लाख पीपीई किट बांटीं

संकटकाल में छोटे कामों का बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। कोरोना महामारी अमेरिका के इतिहास का सबसे अंधकारमय समय रहा है। पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की ढील के कारण देश में स्वास्थ्य कर्मियों के पास सुरक्षा के लिए जरूरी पीपीई किट का अभाव था। डॉ. शिखा गुप्ता ना ही गवर्नर हैं और ना ही सांसद। वे केवल डॉक्टर और साधारण नागरिक हैं। लेकिन, उन्होंने और उनके साथियों ने इस मौके पर आगे आकर जिम्मेदारी संभाली। उनके संगठन- द गेट अस पीपीई ऑर्गेनाइजेशन ने अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मचारियों को 65 लाख से अधिक पीपीई किट बांटे। शिखा और उनके साथी डॉक्टरों और कार्यकर्ताओं की पहल ने लाखों लोगों का जीवन बचाया है।

शिखा गुप्ता
शिखा गुप्ता

कर्ज से मुक्त कराते हैं
कोविड-19 महामारी ने आर्थिक रूप से लाखों अमेरिकियों की कमर तोड़ दी है। कर्ज चुकाने और नई शुरुआत के लिए व्यक्तिगत तौर पर दिवालिया घोषित होना जरूरी है। इस काम के लिए भारी फीस लगती है। कागजात तैयार करने का काम बहुत पेचीदा है। खासतौर से गरीबों के लिए यह आसान नहीं है। 25 वर्ष के रोहन पुवुलेरी ने 2018 में स्वयंसेवी संस्था-अपसॉल्व की स्थापना की थी। यह लोगों को दिवालिया फार्म भरने के लिए मुफ्त ऑनलाइन टूल मुहैया कराती है। अपसॉल्व ने लोगों को 2100 करोड़ रुपए से अधिक कर्ज के बोझ से मुक्त कराया है। वे कहते हैं, हमने लोगों के साथ हो रहे अन्याय को दूर करने के लिए टेक्नोलॉजी का सहारा लिया है।

रोहन पुवुलुरी
रोहन पुवुलुरी

जिन्होंने ट्रम्प को बैन किया

टि्वटर के सीईओ जेक डोर्सी प्रशांत महासागर के एक द्वीप में जब छुटि्टयां मना रहे थे तब उन्हें पता लगा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का अकाउंट उनके प्लेटफार्म से निलंबित कर दिया गया है। 6 जनवरी को यह खबर टि्वटर की सबसे बड़ी वकील और नीति प्रमुख विजया गाडे ने दी थी। विजया ने डोर्सी को फोन पर बताया कि और अधिक हिंसा रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है। दो दिन बाद विजया और अन्य कर्मचारियों ने डोर्सी को ट्रम्प का अकाउंट स्थायी तौर पर बंद करने के लिए मना लिया। 46 वर्ष की विजया टि्वटर की सबसे शक्तिशाली अधिकारियों में शामिल हैं। वे 2019 में राजनीतिक विज्ञापन बंद करने के फैसले की शिल्पकार हैं।

विजया गाडे
विजया गाडे

ये लोगों को हंसाती हैं

19 वर्षीय मैत्रेयी रामकृष्णन प्रतिभाशाली एक्ट्रेस हैं। उन्होंने टिकटॉक और इंस्टाग्राम पर अपने मजेदार कॉमिक वीडियो से बहुत जल्द लोगों के दिल में जगह बना ली। अब वे-नेव्हर हैव आई एव्हर फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं। मैत्रेयी कहती हैं कि जब विमानतल पर लोग उन्हें देखकर कहते हैं कि अापका वीडियो देखा था तब मुझे बड़ी जिम्मेदारी का अहसास भी होता है। वे अपने काम को बहुत गंभीरता से लेती हैं। अभिनय करते समय ध्यान रखती हैं कि कंटेंट कैसा है और वे क्या बोल रही हैं। वे दूसरों की मदद के लिए अपने प्लेटफार्म का उपयोग करना चाहती हैं। मैत्रेयी शांत और गंभीर टीनएजर हैं। लेकिन, वे स्क्रीन पर एक बड़े आर्टिस्ट का अहसास कराती हैं।

मैत्रेयी रामकृष्णन
मैत्रेयी रामकृष्णन

दलितों की आवाज

34 साल के चंद्रशेखर आजाद की भीम आर्मी स्कूल चलाती है ताकि दलितों को शिक्षा के माध्यम से पिछड़ेपन और गरीबी से लड़ने में मदद मिले। उनकी सेना गांवों में जाति आधारित हिंसा के शिकार लोगों की रक्षा करती है। वे भेदभाव के खिलाफ उग्र प्रदर्शनों का आयोजन करते हैं। सितंबर 2020 में उत्तरप्रदेश में दलित महिला से चार लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म के खिलाफ आजाद और भीम आर्मी ने जबर्दस्त आंदोलन छेड़ा था। आंदोलन और जन विरोध के बाद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। आजाद ने किसान आंदोलन सहित कई प्रगतिशील आंदोलनों का समर्थन किया है। उन्होंने मार्च 2020 में राजनीतिक दल का गठन किया।

चंद्रशेखर आजाद
चंद्रशेखर आजाद

यूएई की आसमानी उड़ान

सारा अल अमीरी
सारा अल अमीरी

बहुत लोगों को जानकर हैरत होगी कि संयुक्त अरब अमीरात के मंगल ग्रह अंतरिक्ष अभियान की कमान 34 साल की महिला वैज्ञानिक सारा अल अमीरी के हाथ में है। 9 फरवरी को अमीरात का स्पेसक्राफ्ट होप लाल ग्रह की कक्षा में पहुंच गया। सारा की टीम में 80% महिलाएं हैं। प्रोजेक्ट को साकार होने में छह साल लगे हैं। सारा अमीरात की एडवांस्ड साइंसेस मंत्री भी हैं। वे अपने देश और उसके तेजी से विकसित हो रहे साइंस, टेक्नोलॉजी सेक्टर का ग्लोबल चेहरा हैं। अमीरात पांचवां देश है जिसका अंतरिक्ष यान मंगल ग्रह की परिक्रमा कर रहा है। सारा कहती हैं, होप स्पेसक्राफ्ट की सफलता अमीरात की अगले 50 वर्षों में लगाई जाने वाली छलांग का संकेत है।

भूखे बच्चों के मददगार

मार्कस रेशफोर्ड
मार्कस रेशफोर्ड

मानचेस्टर यूनाइटेड और इंग्लैंड की फुटबाॅल टीम के सितारा खिलाड़ी मार्कस रेशफोर्ड ने 2020 में राष्ट्रीय संकट के दौरान आगे आकर काम किया। उन्होंने भूखे बच्चों को भोजन मुहैया कराया। मार्कस कहते हैं, मैं जानता हूं कि भूख कैसी होती है। उनके अभियान की वजह से सरकार ने गर्मी की छुटि्टयों के दौरान बच्चों को खाना उपलब्ध कराया। मार्कस ने अपने प्रभाव का उपयोग कर समाज के सबसे कमजोर वर्गों की मदद की। उनसे प्रेरणा लेकर बड़ी संख्या में लोग उनके मिशन में शामिल हो गए। उन्होंने, संकट के समय ब्रिटेन में लोगों को एकजुट होने की ताकत दी है। उनके अभियान का लक्ष्य है कि देश में कोई बच्चा भूखा न रहे।

महामारी से लड़ाई

किजमेकिया कॉर्बेट
किजमेकिया कॉर्बेट
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें