पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किड ऑफ द इयर:भारतीय मूल की गीतांजलि राव टाइम मैग्जीन की किड ऑफ द ईयर घोषित

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 15 साल की यह वैज्ञानिक ट्रोलिंग से लड़ रही है, युवा आविष्कारकों का समूह बनाने में जुटी है

टाइम मैग्जीन ने पहली बार वर्ष के प्रतिभाशाली और संभावनाओं से भरे पांच बच्चों का चयन किया है। भारतीय मूल की 15 वर्षीय गीतांजलि राव को किड ऑफ द ईयर घोषित किया है। उनका चयन 8 से 16 साल की आयु के पांच हजार अमेरिकी बच्चों के बीच किया गया है। उन्हें मैग्जीन के कवर पर जगह मिली है। चार अन्य बच्चे हैं-14 साल के आर्टिस्ट टाइलर गोर्डन, 14 वर्ष की डिजाइनर जोर्डन रीव्स,10 साल की अश्वेत बेलेन वुडवर्ड। वे रंगों के सहारे रंगभेद से लड़ती हैं। 16 साल के इयान मेकेना फूड बैंक बना रहे हैं।

साइंटिस्ट और इन्वेंटर गीतांजलि बताती हैं, वे रिसर्च, सृजन, संवाद पर यकीन करती हैं। उन्होंने इतनी कम आयु में दूषित पेयजल, अफीम की लत और इंंटरनेट पर ट्रोलिंग जैसे मसलों का हल खोजने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है। दुनिया की समस्याओं को सुलझाने के लिए युवा आविष्कारकों का ग्रुप तैयार करने के मिशन में भी जुटी हैं। एक्टर और एक्टिविस्ट एंजेलिना जोली ने गीतांजलि राव से वीडियो कॉल पर बातचीत की।

Q. आपको साइंस में अपनी दिलचस्पी का अहसास कब हुआ?

- मैं हमेशा लोगों के चेहरे पर मुस्कान बिखेरना चाहती हूं। मेरा लक्ष्य है कि हर कोई खुश रहे। मैं जब दूसरी या तीसरी क्लास में थी तब मैंने सोचना शुरू किया कि हम कैसे सामाजिक बदलाव के लिए साइंस और टेक्नोलॉजी का उपयोग कर सकते हैं। मैंने दस वर्ष की आयु में माता-पिता को बताया कि मैं डेनवर की पानी स्वच्छ रखने वाली लेबोरेटरी में कार्बन नेनोट्यूब सेंसर टेक्नोलॉजी पर रिसर्च करना चाहती हूं। टेक्नोलॉजी से पानी में रसायनों का पता लग सकता है। यह रिसर्च जल्द ही पूरी हो जाएगी।

Q. इंटरनेट ट्रोलिंग रोकने के लिए अपनी इनोवेशन के बारे में बताइए?

- इस सर्विस का नाम काइंडली है। एप और क्रोम एक्सटेंशन पर चलती है। आर्टिफिशियल टेक्नोलॉजी पर आधारित एप शुरुआत में ही साइबर बुलीइंग का पता लगा लेता है। मैंने ट्रोलिंग से संबंधित कुछ शब्दों को कोड किया है। मेरा एंजिन इन शब्दों और उसके जैसे अन्य शब्दों को पहचानता है। आपके पास शब्द की एडिटिंग या उसे अलग करने का विकल्प रहता है। किसी को दंडित करने का लक्ष्य नहीं है। टीनएजर होने के नाते मुझे मालूम है, टीनएजर कई बार किसी बात पर अपना गुस्सा बताना चाहते हैं। यह आपको सोचने का अवसर देता है कि आप क्या कह रहे थे।

Q. आपने इस सिस्टम को बच्चों के फोन से जोड़ दिया है?

- मैंने पैरेंट्स, शिक्षकों और छात्रों का सर्वे किया है। ऐसा लगा बच्चे नहीं चाहते कि उन्हें मैनेज किया जाए। नियंत्रित किया जाए। कई बच्चों, किशोरों ने बताया कि वे अपनी गलतियों से सीखने का मौका चाहते हैं। मुझे अच्छा लगा कि बच्चों ने इस सिस्टम का उद्देश्य समझ लिया है।

Q. इतनी कम आयु में भविष्य के संबंध में सोचने और महिला इन्वेंटर होने पर आपको कैसा लगता है?

- मैं सामान्य साइंटिस्ट के समान नहीं लगती हूं। हमने टीवी पर बुजुर्ग और श्वेत व्यक्ति को साइंटिस्ट के बतौर देखा है। ऐसा जान पड़ता है जैसे किसी ने जिम्मेदारी सौंप रखी है। मेरा लक्ष्य विश्व की समस्याओं को सुलझाने के लिए स्वयं अपने डिवाइस बनाने के साथ दूसरों को भी ऐसा करने की प्रेरणा देने का है। मैंने किसी को ऐसा करते नहीं देखा है। इसलिए मैं बताना चाहती हूं कि जब मैं कर सकती हूं तब आप भी कर सकते हैं और कोई भी कर सकता है।

Q. युवा आविष्कारकों को जोड़ने के लिए चल रहा मिशन क्या है?

- मेरे काम का तरीका है- स्थितियों पर गौर करना, चर्चा, रिसर्च और निर्माण। साधारण प्रेजेंटेशन और लैसन देने से शुुरुआत हुई थी। इसके बाद लेबोरेटरीज को साथ लिया गया। छात्रों के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ। अब ग्रामीण स्कूलों,स्टेम ऑर्गेनाइजेशन में लड़कियों, दुनिया भर के म्यूजियम और शंघाई इंटरनेशनल यूथ, साइंस और टेक्नोलॉजी ग्रुप, रॉयल इंजीनियरिंग अकादमी लंदन जैसे बड़े संगठनों को इनोवेशन वर्कशॉप चलाने के लिए जोड़ा गया है। हर वर्कशॉप के बाद सामने आता है कि हर किसी के पास ऐसा कुछ है कि वह उस पर काम शुरू कर सकता है। मुझे बहुत अच्छा लगता है जब ई-मेल मिलते हैं कि मैंंने चार माह पहले तुम्हारी वर्कशॉप में हिस्सा लिया था। अब मैंने एक प्रोडक्ट बनाया है।

Q. इस समय आप किस इनोवेशन पर काम कर रही हैं?

- मैं पानी में पैरासाइट जैसे जैविक प्रदूषण का पता लगाने में जुटी हूं। उम्मीद है यह कम खर्चीला और सटीक होगा। इतना आसान होगा कि गरीब देशों में लोग स्वयं अपने पानी की अशुद्धियों का पता लगा सकेंगे। मेरे साथ 30 हजार छात्र जुड़ गए हैं। यह इनोवेटरों के समुदाय का निर्माण करने के समान है।

Q. आप जल प्रदूषण पर काम कर रही हैं। क्या पर्यावरण पर भी नजर है?

- हमारी पीढ़ी के सामने ऐसी कई समस्याएं हैं जो पहले कभी नहीं थीं। दुनियाभर में महामारी फैली है। मानव अधिकारों की समस्या है। हमें जलवायु परिवर्तन और साइबर बुलीइंग जैसी समस्याओं का हल खोजना होगा। पानी से बैक्टीरिया प्रदूषण खत्म करने का मेरा काम जीन थैरेपी पर आधारित है। अफीम पर आधारित दवाइयों-ओपिओइड की लत का जल्द पता लगाने के लिए प्रोटीन बनाने का काम भी चल रहा है। मेरी जेनेटिक्स में रुचि है।

Q. आप रिसर्च कैसे करती हैं। इसके संबंध में जानकारी कहां से मिलती है?

- एमआईटी टेक रिव्यू ही मेरी पॉप न्यूज है। उससे प्रेरणा मिलती है। एमआईटी और हार्वर्ड में टेक्नोलॉजी पर आश्चर्यजनक काम हुआ है।

गीतांजलि राव कहती हैं, जब मैं कुछ नया कर सकती हूं तो कोई भी ऐसा कर सकता है। हर किसी के पास कुछ नया करने का आइडिया है। दुनिया की समस्याओं का हल खोजने के लिए युवा इनोवेटरों को एक-दूसरे से जोड़ना जरूरी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें