Hindi News »Maharashtra »Mumbai» 16 Naxalites Killed In Police Encounter Near Gadchiroli Forests

महाराष्ट्र में 16 नक्सली ढेर, इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन

गढ़चिरौली में विशेष कमांडो यूनिट सी-60 ने दिया अंजाम

Bhaskar News | Last Modified - Apr 23, 2018, 03:49 AM IST

  • महाराष्ट्र में 16 नक्सली ढेर, इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन
    +1और स्लाइड देखें

    गढ़चिरौली/नागपुर. महाराष्ट्र में गढ़चिरौली में रविवार को तड़गांव के जंगलों में पुलिस ने मुठभेड़ में 16 नक्सली मार गिराए। इनमें जिला स्तर के दो बड़े नक्सली शामिल हैं। नक्सलियों के खिलाफ ये इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन है। इससे पहले 3 अप्रैल को भी महाराष्ट्र पुलिस ने एनकाउंटर में 3 नक्सलियों को मार गिराया था।

    - आईजी शरद शेलार ने बताया कि ऑपरेशन को गढ़चिरौली पुलिस की स्पेशल कॉम्बैट यूनिट सी-60 के कमांडो ने अंजाम दिया है। जिला स्तर के दो नक्सल कमांडर भी मुठभेड़ में मारे गए हैं। दो की पहचान साइनाथ और सैनयू के रूप में की गई है। नक्सलियों की खोज अभी जारी है।

    चार साल में सबसे बड़ी कार्रवाई, तब 10 मरे थे

    - 2014 में छत्तीसगढ़ के बीजापुर में होली के दिन हुए एनकाउंटर में 6 महिला कमांडर समेत 10 नक्सली मारे गए थे। तेलंगाना पुलिस की ग्रेहाउंड्स फोर्स ने पड़ोसी राज्य की सीमा में 35 किमी अंदर घुसकर इस कार्रवाई को अंजाम दिया था।

    गोइलकेरा में आठवें दिन भी मुठभेड़, 13 नक्सलियों के मारे जाने की चर्चा

    - गोइलकेरा (जमशेदपुर) | के सांगाजाटा में पराल पहाड़ी पर नक्सलियों से आठवें दिन भी मुठभेड़ जारी है। 13 नक्सलियों के मारे जाने की चर्चा है।

    - ग्रामीणों के मुताबिक रविवार को सुरक्षा बलों ने ग्रेनेड लॉन्चर से हमला किया। इसमें 13 नक्सली मारे गए। नक्सली सभी शव लेकर निकल गए। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। इस पहाड़ी पर पांच करोड़ के इनामी नक्सली प्रशांत बोस उर्फ किशन, मिसिर बेसरा, सुधाकरण, आदि फंसे हैं।

  • महाराष्ट्र में 16 नक्सली ढेर, इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन
    +1और स्लाइड देखें
    इस गुफा में छिपे हैं नक्सली
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×