मुंबई

--Advertisement--

बीजेपी ने सदन में उठाया ऑडियो क्लिप का मामला, धनंजय के निलंबन की मांग

दोनों सदनों में हंगामा: विप में विपक्ष के नेता पर सवाल न पूछने के लिए पैसे लेने का आरोप

Danik Bhaskar

Mar 02, 2018, 04:41 AM IST

मुंबई. सदन में सवाल न पूछने के लिए कथित रूप से पैसे लेने के आरोपों को लेकर गुरुवार को विधानमंडल में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे को सत्ताधारी भाजपा ने आड़े हाथों लिया। भाजपा सदस्यों ने दोनों सदनों में हंगामा करते हुए राकांपा नेता मुंडे के निलंबन व मामले की न्यायिक जांच की मांग की। विधानसभा में हंगामे के कारण कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई। वहीं विधान परिषद में यह तय हुआ कि मुंडे पर लगे आरोपों की जांच विशेषाधिकार समिति के माध्यम से होगी। सभापति रामराजे निंबालकर ने सदन की विशेषाधिकार समिति को बजट सत्र के समापन से पहले रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। दूसरी ओर शिवसेना, कांग्रेस और रांकापा के साथ खड़ी नजर आई। सदन में भाजपा के सदस्य प्रवीण दरेकर ने मुंडे के खिलाफ लगे आरोपों का मुद्दा उठाया था। उक्त आरोपों से संबंधित ऑडियो क्लिप एक चैनल ने प्रसारित किया है।

धनंजय ने भी पेश की मंत्री पंकजा के पीए की सीडी, पैसे लेने का लगाया आरोप
मामले पर धनंजय मुंडे ने विधान परिषद में कहा कि मैं खुली जांच के लिए तैयार हूं। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा याद रखे कि शुरुआत उसने की है और मैं इसका अंत करूंगा। मुंडे ने सदन में ग्रामीण विकास मंत्री पंकजा मुंडे के निजी सहायक (पीए) प्रदीप कुलकर्णी के ऑडियो क्लिप की सीडी भी पेश कर दी। आरोप लगाया कि क्लिप में पीए 50 लाख रुपए की मांग कर रहे हैं। मुंडे ने कहा कि भाजपा के सदस्य इस क्लिप के बारे में किस तरह की जांच की मांग करेंगे। मुंडे के इस तेवर से भाजपा बैकफुट पर नजर आई। शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि हमें परिपक्वता के साथ काम करना होगा। वहीं पंकजा ने कहा कि ऑडियो क्लिप से उनका कोई संबंध नहीं है। मेरे पीए ने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई है।

टकले ने पेश किया विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव
विधान परिसद में राकांपा सदस्य हेमंत टकले ने मुंडे पर लगे आरोपों से जुड़ी खबर को प्रसारित करने वाले निजी मराठी समाचार चैनल और एचडीआईएल कंपनी के प्रबंध निदेशक प्रमोद पुरंदरे के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश किया।

यह बेहद गंभीर मामला और लोकतंत्र का अपमान है। इसकी न्यायिक जांच कराई जानी चाहिए।
-अनिल गोटे, भाजपा सदस्य, विस


राकांपा भी मांग करती है कि मुख्यमंत्री की अगुआई में पांच सदस्यीय दल मामले की जांच करे और सच्चाई सामने लाए।
-अजित पवार, राकांपा सदस्य, विस

मुंडे लगातार सरकार के मंत्रियों के भ्रष्टाचार को उजागर कर रहे हैं। इसलिए उन पर षड्यंत्र के तहत आरोप लगाए गए हैं।
-शरद रणपीसे, कांग्रेस सदस्य, विप


रामायण में सीता को अग्नि परीक्षा का सामना करना पड़ा था। मुंडे को भी इन आरोपों का सामना करने के लिए तैयार रहना होगा। पार्टी उनके साथ मजबूती से खड़ी रहेगी।
-सुनील तटकरे, राकांपा सदस्य, विप


धनंजय मुंडे को लेकर चैनल ने जो ऑडियो क्लिप प्रसारित किया है, उसकी सत्यता की जांच चैनल ने भी नहीं की है।
-नीलम गोर्हे, शिवसेना सदस्य , विप

Click to listen..