मुंबई

--Advertisement--

मॉडल की मौत के केस में पुलिस के फंदे में फंसा दाेस्त, फ्लैट में मौजूद था उस रात

अारोपी के पाॅलीग्राफ टेस्ट और पुलिस को दिए बयान में सामने आईं गड़बड़ियां।

Danik Bhaskar

Jan 16, 2018, 06:48 AM IST
मर्डर केस में अरेस्ट अर्पिता म मर्डर केस में अरेस्ट अर्पिता म

मुंबई. 24 साल की एंकर अर्पिता तिवारी की संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस ने उसके एक दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। उसपर हत्या और हत्या के सबूत मिटाने का आरोप है। बता दें 11 दिसंबर को मॉडल, एंकर और होस्ट अर्पिता की 15वीं मंजिल से गिरने से मौत हो गई थी। मामले की छानबीन में जुटी पुलिस ने वारदात के समय घर में मौजूद सभी आरोपियों का पाॅलीग्राफ टेस्ट कराया था। फाेरेंसिक लैब में हुए इस टेस्ट से पहले आरोपियों के बयान भी दर्ज किए गए था।

ब्वॉयफ्रेंड ने झगड़े की बात कबूली थी

- अर्पिता की मौत को लेकर परिवार ने सबसे ज्यादा शक उसके ब्वॉयफ्रेंड पंकज जाधव पर जताया था। अंकिता की बहन ने आरोप लगाया है कि पंकज और अर्पिता के बीच अक्सर लड़ाई होती थी, दोनों अलग होना चाहते थे।
- पंकज ने भी इस बात को पुलिस के सामने कबूल किया है। उसने बताया है कि उसका और अंकिता का तकरीबन ब्रेकअप हो चुका था।
- पंकज के मुताबिक वारदात वाले दिन पंकज, अर्पिता और अमित तीनों हॉल में सोए हुए थे। वहीं, बाकी दोस्त दूसरे कमरे में आराम कर रहे थे।

- पुलिस ने बाद में जब पाॅलीग्राफ टेस्ट के दौरान बताई गई बातों और पुलिस को दिए बयान का मिलान किया तो पाया कि हाजरा के बयान में कई गड़बड़ियां हैं। इस बेस पर सोमवार सुबह पुलिस ने बोरिवली कोर्ट में पेशी के बाद उसे 20 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

फिल्मों में काम करने मुंबई आई थी अर्पिता

- अर्पिता ने जमशेदपुर(झारखंड) के हिल टॉप स्कूल में पढ़ाई की थी। जिसके बाद उसने मुंबई में इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स किया और एक्टिंग का क्लास भी की थी।

- पड़ोसियों के मुताबिक बचपन से ही वह फैशन और फिल्मों में काम करना चाहती थी। इसके चलते वो मुंबई चली गई थी।

- हत्या की मौत की खबर मिलने के बाद उसके पिता और अन्य लोग मुंबई में ही हैं। उनके घोड़ाबांधा वाले घर पर ताला लटका हुआ है।

पिता ने फ्लैट में मौजूद पांचों की पहचान की

- अर्पिता तिवारी की बहन श्वेता तिवारी ने कहा कि यह न तो सुसाइड है और न ही एक्सीडेंट यह पूरी तरह से प्लांड रेप और मर्डर है।
- पिता त्रिवेणी तिवारी ने फ्लैट में मौजूद पांच लोगों की पहचान की है। पांचों अर्पिता और उसके ब्वॉयफ्रेंड के दोस्त हैं।
- त्रिवेणी तिवारी के मुताबिक, अर्पिता की मौत से पहले फ्लैट में उसका ब्वॉयफ्रेंड पंकज जाधव, अमित कुमार (जिसने फ्लैट रेंट पर लिया था), मनीष (अमित के यहां पेइंग गेस्ट के रूप में रहता था), श्रवण( पेइंग गेस्ट अमित के साथ) और मुन्ना (बदला हुआ नाम) कुक थे। परिवार को शक है की या तो इनमें से किसी एक ने या सभी ने मिलकर अर्पिता का मर्डर किया है।

अर्पिता के शरीर पर चोट के निशान से शक
- अर्पिता की मौत के मामले में प्रिलिमनरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक, उसके साथ किसी तरह की जोर जबरदस्ती नहीं की गयी थी, लेकिन मौत की वजह मल्टीपल इंजुरी है।
- ये इंजुरी किसी भी फॉर्म में हो सकती है या तो कूदने की वजह से या फिर ऊपर से नीचे फेंकने की वजह से। अर्पिता के शरीर पर चोट के निशान थे।
- मालवणी पुलिस के मुताबिक, अर्पिता मीरा रोड इलाके में उसकी बॉडी बिल्डिंग की दूसरी मंजिल के टेरेस पर अंडरगारमेंट्स में मिली।

पुलिस को दोस्तों ने बताई ये कहानी

- अर्पिता के साथियों ने पुलिस को बताया है कि सुबह चार बजे तक पार्टी हुई और पता नहीं उसके बाद क्या हुआ। सुबह अर्पिता फ्लैट से गायब थी।
- अर्पिता अपने दोस्त पंकज जाधव के साथ मानवस्थल बिल्डिंग में आई थी। 15वीं फ्लोर के 1501 नंबर फ्लैट में पार्टी हो रही थी। पंकज और अर्पिता सुबह चार बजे तक पार्टी करते रहे और सुबह नौ बजे सबकी आंख खुली तो अर्पिता वहां नहीं थी।
- इस दौरान काफी ढूंढने पर पता चला कि फ्लैट के बाथरूम का दरवाजा बंद है। जब बाथरूम का दरवाजा तोड़ा गया तो शीशा टूटा हुआ था। नीचे आने पर पता चला कि दूसरी मंजिल पर अर्पिता की लाश झूल रही है।

Click to listen..