Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Chief Minister Fadnavis Says No Evidence Against Sambhaji Guruji

भीमा कोरेगांव हिंसा: मुख्यमंत्री फडणवीस बोले- गुरुजी के खिलाफ नहीं मिले सबूत

मुख्यमंत्री ने कहा कि घटना महाराष्ट्र के लिए कलंक है। पूरी घटना की वीडियो क्लिप सरकार के पास है।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 28, 2018, 04:49 AM IST

  • भीमा कोरेगांव हिंसा: मुख्यमंत्री फडणवीस बोले- गुरुजी के खिलाफ नहीं मिले सबूत
    +1और स्लाइड देखें
    शिव प्रतिष्ठान के प्रमुख संभाजी भिड़े गुरुजी

    मुंबई.भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में मंगलवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में कहा कि शिव प्रतिष्ठान के प्रमुख संभाजी भिड़े गुरुजी और उनके संगठन से जुड़े सभी लोगों के फोन रिकॉर्ड की जांच की गई है। लेकिन वे भीमा कोरेगांव हिंसा के छह महीने पहले से न उस इलाके में गए ना ही किसी के संपर्क में थे। उन्होंने कहा कि एक महिला ने मिलिंद एकबोटे और भिड़े गुरुजी के दंगे में शामिल होने की बात कही थी, इसी आधार पर एफआईआर दर्ज की गई थी। लेकिन जांच में महिला ने बाद में कहा कि वह कही सुनी बातों के आधार पर दावा कर रही थी। वह न भिड़े गुरुजी को जानती है न उन्हें घटनास्थल पर देखा था।

    फेसबुक से जुड़े सबूतों की होगी जांच

    एकबोटे की गिरफ्तारी सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर करने की बात को भी मुख्यमंत्री ने गलत बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने अदालत में अपना पक्ष रखकर गिरफ्तारी का रास्ता साफ किया। घटना के दौरान पुलिस बंदोबस्त में कमी के आरोपों को भी उन्होंने गलत बताया। हालांकि मुख्यमंत्री ने कहा कि घटना महाराष्ट्र के लिए कलंक है। पूरी घटना की वीडियो क्लिप सरकार के पास है। सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है। उन्होंने कहा कि भिड़े गुरुजी को लेकर प्रकाश आंबेडकर ने फेसबुक से जुड़े कुछ सबूत दिए हैं इनकी जांच की जाएगी।

    सनातन पर पाबंदी का प्रस्ताव केंद्र के पास

    सनातन संस्था पर पाबंदी लगाने की विपक्ष की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार ने इस संबंध में प्रस्ताव भेजा था जिसे केंद्र ने खारिज कर दिया था। 2015 में कुछ नए सबूत केंद्र सरकार को भेजे गए हैं, फिलहाल इस पर केंद्र के फैसले का इंतजार है। मुख्यमंत्री ने न्यायाधीश लोया की मौत का सिलसिलेवार ब्योरा देते हुए कहा कि कारवां मैग्जीन द्वारा मामले में फर्जी खबर छापी गई। उससे पहले साढ़े तीन साल तक किसी ने सवाल नहीं उठाया। जिस डॉक्टर का बयान खबर में लिखा गया था उसने भी झूठी बातें छापने का आरोप लगाया है।

    पकड़ा गया आरोपी कांग्रेसी नगरसेवक

    मुख्यमंत्री ने विदर्भ की मंडी टोली के मुद्दे पर भी विपक्ष पर पलटवार किया। उन्होंने बताया कि जनवरी 2018 में यवतमाल में तीन मामलों में आठ आरोपी पकड़े गए। जिनके पास से सात पिस्तौल भी मिले। इस मामले का प्रमुख आरोपी सलीम सागवान कांग्रेस का मौजूदा नगरसेवक है। उन्होंने कहा कि जिस बंटी जायसवाल के बारे में विपक्ष के नेता विखेपाटील ने आरोप लगाया है, उसे भाजपा के साथ उनकी पार्टी ने भी समर्थन देकर जिला परिषद का उपाध्यक्ष बनवाया है। चर्चा के दौरान विखेपाटील ने आरोप लगाया था कि एक जिले में 4 हजार अवैध हथियारों की मंडी टोली है जिसे एक मंत्री संरक्षण दे रहे हैं।

    हत्या के मामले घटे, चोरी के बढ़े
    मुख्यमंत्री ने दावा किया कि राज्य में हत्या के मामलों में 21 फीसदी, डकैती में 26 फीसदी और सशस्त्र डकैती में 9 फीसदी की कमी आई है। उन्होंने कहा कि वाहन चोरी के मामलों में 12 फीसदी और सामान्य चोरी के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। क्योंकि पहले रेलवे में गायब होने वाले सामान को लापता के तहत दर्ज किया जाता था। लेकिन अब यह चोरी के मामले के रूप में दर्ज होता है। उन्होंने बताया कि नागपुर में रेलवे में चोरी के 4337 मामले दर्ज किए गए। उन्होंने बताया कि महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले में महाराष्ट्र 13 वें और दुष्कर्म के मामलों में 15 वें नंबर पर है।

    शराब ले जाने वाला पुलिसकर्मी बर्खास्त

    मुख्यमंत्री ने बताया कि पुलिस की गाड़ी में आठ लाख की शराब नागपुर से चंद्रपुर ले जाने के मामले में आरोपी पुलिस सिपाही सचिन मेश्राम को बर्खास्त किया गया है। जबकि संबंधित पुलिस इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया है। अपने नाम के फेसबुक पेज के संबंध में उन्होंने कहा कि वह मेरा अधिकृत एकाउंट नहीं है। इस पर विपक्ष के खिलाफ कुछ गलत पोस्ट हुआ है तो इसे मेरा समर्थन नहीं है। उन्होंने राकांपा नेता जयंत पाटील की तरफ इशारा करते हुए कहा कि ‘फ्रेंडस ऑफ जयंत पाटील’ फेसबुक पेज है, जिस पर लिखा है ‘राकांपा के एक ही दादा।’

    नागपुर में आपराधिक मामलों में आई कमी

    नागपुर में अपराध बढ़ने के विपक्ष के दावों को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने खारिज करते हुए कहा कि नागपुर में अपराधों में काफी कमी आई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्षी नेताओं ने उपराजधानी नागपुर को क्राइम कैपिटल बताने की कोशिश की लेकिन यहां आपराधिक मामलों में 25 हजार 558 की कमी आई है। शहर में हो रहे अपराधों में और कमी लाने की कोशिश की जा रही है।

  • भीमा कोरेगांव हिंसा: मुख्यमंत्री फडणवीस बोले- गुरुजी के खिलाफ नहीं मिले सबूत
    +1और स्लाइड देखें
    मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×