--Advertisement--

छोटी बहन नहीं करती मां की देखभाल, इंग्लैंड में रहने वाली बड़ी बहन पहुंची कोर्ट

हाईकोर्ट ने रोजाना बुजुर्ग महिला का हाल जाने पुलिस को दिया आर्डर।

Dainik Bhaskar

Dec 30, 2017, 07:05 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

मुंबई. बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक 86 वर्षीय बुजुर्ग महिला की मदद की पहल की है। अप्रवासी भारतीय महिला की बेटी ने मां की जान को खतरा होने की आशंका व्यक्त करते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। जिसे देखते हुए हाईकोर्ट ने मलाड पुलिस स्टेशन के एक पुलिस कर्मी को मामले की अगली सुनवाई तक रोजाना बुजुर्ग महिला का हालचाल लेने को कहा। अदालत ने इस संबंध में एक रिपोर्ट पेश करने का भी निर्देश दिया है।

छोटी बहन पर बड़ी ने लगाए थे ये अारोप

याचिका में महिला की बड़ी बेटी मेलबा एफ ने दावा किया है कि छोटी बहन के साथ रहने वाली उसकी मां की बहन ठीक तरह से देखभाल नहीं कर रही है। इंग्लैंड में रहने वाली बड़ी बहन का आरोप है कि उसकी छोटी बहन उसकी मां पर दबाव बनाकर पैसे ऐठ रही है। अवकाश न्यायमूर्ति सारंग कोतवाल के सामने महिला की बेटी मेलबा की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई हुई।

छोटी बहन मां के साथ क्रूर बर्ताव कर रही है

- याचिका में मेलबा ने दावा किया है कि उनकी छोटी बहन मां के साथ क्रूर बर्ताव कर रही है। इसलिए मां के जीवन को खतरा है। सुनवाई के दौरान सरकारी वकील ने कहा कि मालाड पुलिस स्टेशन की एक महिला पुलिस अधिकारी ने याचिकाकर्ता की मां के घर का दौरा किया।

- इस पर याचिकाकर्ता के वकील एएम सरावगी ने कहा कि याचिकाकर्ता को कुछ ईमेल मिले हैं, जिसमें कहा गया है कि उनकी मां की स्थिति ठीक नहीं है।

- इस संबंध में दिए गए हलफनामे पर गौर करने के बाद न्यायमूर्ति ने पुलिस अधिकारी को कहा कि वे इस बाद की तस्दीक करे की यह मेल किसकी मेल आईडी से भेजे गए हैं। क्या यह ईमेल मां के साथ रह रही बेटी ने भेजे हैं। न्यायमूर्ति ने सरकारी वकील को इस संबंध में हलफनामा दायर करने को कहा है। और मामले की सुनवाई 10 जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी।

X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..