--Advertisement--

मुंबई में नमकीन फैक्टरी में आग में 12 मजदूर जिंदा जले, लाशों की पहचान मुश्किल

शरीर पूरी तरह जल जाने के चलते दो मजदूरों की पहचान खबर लिखे जाने तक नहीं हो पाई है।

Dainik Bhaskar

Dec 19, 2017, 10:11 AM IST
आग लगने से 12 मजदूरों की झुलसकर आग लगने से 12 मजदूरों की झुलसकर

मुंबई. अंधेरी के साकीनाका इलाके में नमकीन बनाने की फैक्टरी में आग लगने से 12 मजदूरों की झुलसकर मौत हो गई। हादसे में दो लोग घायल हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शरीर पूरी तरह जल जाने के चलते दो मजदूरों की पहचान खबर लिखे जाने तक नहीं हो पाई है। वहीं पुलिस का कहना है कि अगर जांच के दौरान फैक्टरी के मालिक या मैनेजर की लापरवाही की बात सामने आई तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

- खैरानी रोड के मखारिया कंपाउंड में स्थित भानू फरसाण नाम की फैक्टरी में आग सुबह सवा चार बजे के करीब लगी। इस दौरान गाले में भानू फरसाण के अलावा दूसरे दुकानों के 21 मजदूर सो रहे थे।

- आग लगने के बाद दरवाजे के नजदीक सो रहे मजदूर तो बाहर निकलने में कामयाब हो गए, लेकिन गाले के अंदर सो रहे मजदूरों पर छत आ गिरी, जिसके चलते वे बुरी तरह झुलस गए।

इसलिए भड़की आग
चश्मदीदों के मुताबिक, गाले में लकड़ी, प्लास्टिक समेत कई ज्वलनशील पदार्थ थे जिससे यह तेजी से फैली। आग की खबर मिलने के बाद दमकल और पुलिस की गाड़ियां कुछ ही देर में मौके पर पहुंची लेकिन आग इतनी भीषण थी कि उस पर काबू पाने में काफी समय लगा। आठ बजे के करीब फैक्टरी में फंसे 12 लोगों को निकालकर अस्पताल ले जाया गया, लेकिन दाखिल करने से पहले डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

राहत और बचाव का काम पूरा हो गया है। शुरुआती छानबीन में साफ हुआ है कि फैक्टरी में आग से सुरक्षा के लिए जरूरी उपाय नहीं किए गए थे।
-प्रभात रहांगडाले, दमकल अधिकारी

इनकी गई जान

वसीम मिर्जा, भोला, लल्लू, सल्लूभाई उर्फ मनोहर पंडित, राजू यादव, लंबू, नईम सलीम मिर्जा, रामनरेश गुप्ता, गुलामअली छेदी खान, जितेंद्र। इनके अलावा दो मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है। दोनों 100 फीसदी जल चुके हैं।

आग लगने की वजह पता लगाई जा रही है। मामले में किसी की लापरवाही की बात सामने आने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
-नवीनचंद्र रेड्डी, डीसीपी

X
आग लगने से 12 मजदूरों की झुलसकर आग लगने से 12 मजदूरों की झुलसकर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..