Hindi News »Maharashtra Latest News »Mumbai News» Holes In Security Cover Of About Six And A Half Million

46 हजार किसानों से धोखा, करीब साढ़े 6 करोड़ के सुरक्षा कवच में छेद

Bhaskar News | Last Modified - Feb 03, 2018, 07:59 AM IST

फसल का नुकसान होने पर भरपाई के सपने दिखाकर बीमा करवाया गया।
46 हजार किसानों से धोखा, करीब साढ़े 6 करोड़ के सुरक्षा कवच में छेद

नागपुर.फसल का नुकसान होने पर भरपाई के सपने दिखाकर बीमा करवाया गया। आर्थिक तंगी सहकर िकसानों ने बीमा करवाने के िलए जेब से खर्च किया। फसल का नुकसान होने पर किसान भरपाई मांगने पहुंचे तो तो नया नियम बताकर मदद करने से हाथ झटक लिए गए। बाढ़, गाज तथा आग से नुकसान होने पर उत्पादन में घट-भरपाई के रूप में देने का नया िनयम दिखाया जा रहा है। बीमा के नाम पर धोखाधड़ी िकए जाने से किसान ठगा महसूस कर रहे हैं। फसल बीमा िनकलवाने के िलए कृषि िवभाग द्वारा जोर-शोर से प्रचार-प्रसार िकया गया। प्राकृतिक आपदा, कीड़ों का हमला, भूस्खलन, बाढ़, सूखा, चक्रावत, आग, गाज गिरने तथा अन्य कारणों से लगी आग के कारण फसल का नुकसान होने पर बीमा लाभ देने के सपने िदखाए गए। फसल का नुकसान होने पर आर्थिक नुकसान से बचने के िलए बीमा कराने िकसानों को प्रेरित िकया गया। फसल बीमा के फायदे गिनवाए जाने से िकसानों का उत्सफूर्त प्रतिसाद मिला।

45 हजार 938 किसानों ने कराया था बीमा

जिले में 45 हजार 938 किसानों ने रबी फसल का बीमा कराया। बीमा कराने वाले किसानों को 6 करोड़ 59 लाख रुपए का सुरक्षा कवच प्रदान किए जाने दावा कर कृषि िवभाग ने अपनी पीठ थपथपाई। मौसम की मार और कीड़ों के हमले से फसल नष्ट हो गई। किसानों का करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ। बीमा कराए जाने से उन्हीं भरपाई की उम्मीद थी। कृषि िवभाग से भरपाई की गुहार लगाई गई। भरपाई देना तो दूर, फसल के नुकसान का सर्वेक्षण करने के िलए भी तैयार नहीं है। कृषि िवभाग द्वारा नया िनयम िदखाकर हाथ झटक िदए। बीमा कराने के िलए किसानों को सपने दिखाए गए। भरपाई देने की बारी आने पर हाथ झटक लिए जाने से िकसानों की िनराशा हुई है।

बोंड इल्ली : 33 प्रश. से अधिक नुकसान भरपाई के िलए पात्र

- बोंड इल्ली से हुए नुकसान का सर्वेक्षण करने के सरकार से आदेश मिले हैं। इसमें 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने वाली तहसीलों को नुकसान भरपाई के िलए पात्र ठहराया गया है। तहसील कृषि अधिकारी, विस्तार अधिकारी तथा तहसीलदार के माध्यम से सर्वेक्षण िकया गया। जिले की मौदा, काटोल, कलमेश्वर, रामटेक और नरखेड़ तहसील में 33 प्रतिशत से कम नुकसान होने का रिपोर्ट प्राप्त हुआ है। अन्य 8 तहसीलों में 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने के कारण 68 करोड़, 57 लाख, 69 हजार 757 रुपए भरपाई का प्रस्ताव सरकार के पास भेजा गया है।
मिलिंद शेंडे, जिला अधीक्षक, कृषि अधिकारी

बीमा के नाम पर िकसानों से ठगी
- बीमा िनकलवाने के िलए प्राकृतिक आपदा, कीड़ों का हमला, भूस्खलन, बाढ़, सूखा, चक्रावात, आग, गाज गिरने से नुकसान होने पर भरपाई देने के सपने िदखाए गए। मौसम के दगा देने और कीड़ों के हमले से नुकसान होने पर बाढ़, गाज तथा आग लगने पर भरपाई देने का नया नियम िदखाकर हाथ खड़े कर िदए गए हैं। बीमा के नाम पर िकसानों के साथ धोखाधड़ी की गई है।
शिवकुमार यादव, जिला परिषद सदस्य

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mumbai News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 46 hazaar kisaanon se dhokhaa, karib saadhee 6 karode ke surksaa kvch mein chhed
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Mumbai

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×