--Advertisement--

महाराष्ट्र मंत्रालय के सामने और एक ने किया सुसाइड का प्रयास

किसान ने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आत्महत्या की कोशिश की।

Danik Bhaskar | Mar 24, 2018, 04:13 AM IST

मुंबई. मंत्रालय के सामने एक बार फिर आत्महत्या की कोशिश हुई है। गुलाब मारुती शिंगारे (56) नाम के किसान ने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आत्महत्या की कोशिश की। लेकिन गेट पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने जल्द ही उस पर काबू पा लिया। घटना के बाद मरीन ड्राइव पुलिस ने शिंगारे को हिरासत में ले लिया। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है।

शिंगारे मूल रूप से नाशिक के लासलगांव का रहने वाला है। उसका आरोप है कि पुलिस पाटील और जिला परिषद के पदाधिकारियों ने उसके घर पर कब्जा कर लिया है। अधिकारियों से गुहार लगाने के लिए शिंगारे मंत्रालय पहुंचा था। लेकिन यहां ठीक बर्ताव न होने पर उसने आत्महत्या की कोशिश की।

इससे पहले जमीन का उचित मुआवजा न मिलने से परेशान 80 वर्षीय किसान धर्मा पाटील और हर्षल रावते नाम का एक पैरोल पर छूटा कैदी मंत्रालय में आत्महत्या कर चुके हैं। इसके अलावा भी कई लोगों ने सरकार और प्रशासन का ध्यान खींचने के लिए इसी तरह का कदम उठाया है।


सरकार ने अधिकारियों को विवादों के जल्द निपटारे और मंत्रालय में बैठने वाले अधिकारियों को दोपहर ढाई से साढ़े तीन के बीच आम लोगों से मुलाकात के लिए समय देने के निर्देश भी दिए हैं।