--Advertisement--

शराब से हुई थी श्रीदेवी की मौत, फिर तिरंगा क्यों? ठाकरे के 10 विवादित बयान

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने कहा 2019 में चाहिए मोदी मुक्त भारत।

Danik Bhaskar | Mar 20, 2018, 01:56 PM IST

मुंबई. राज ठाकरे ने कहा है कि वे 2019 में 'मोदी मुक्त भारत' देखना चाहते हैं। साथ ही उनका कहना है कि यदि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार गिरती है और डिमॉनेटाइजेशन पर जांच समिति बैठती है, तो आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला सामने आएगा। बता दें कि इन्होंने 2014 में खुलकर नरेंद्र मोदी का समर्थन किया था।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख अपने तीखे बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। DainikBhaskar.com उनके कुछ ऐसे ही विवादास्पद बयान बता रहा है।

'मोदी मुक्त भारत के लिए एक हों सभी विपक्षी दल'

- ठाकरे ने सेंट्रल मुंबई स्थित शिवाजी पार्क में अपने वर्कर्स को संबोधित करते हुए कहा, "2019 में मोदी मुक्त भारत लाने के लिए सभी अपोजिशन पार्टियों को एकजुट होना होगा। देश मोदी के झूठे वादों से उकता गया है।"
- उन्होंने कहा, "देश को पहली बार आजादी 1947 में मिली थी। उसके बाद 1977 में इमरजेंसी के बाद हुए चुनावों के बाद मिली। 2019 का चुनाव तीसरा स्वतंत्रता दिवस साबित हो सकता है अगर इंडिया मोदी मुक्त हो जाए।"

अक्षय कुमार को बताया कनाडाई

- मनसे चीफ ने एक्टर अक्षय कुमार को गैर-हिंदुस्तानी बताते हुए कहा, "बॉलीवुड फिल्में 'पैडमैन' और 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' सिर्फ सरकारी स्कीमों का प्रोपागंडा मात्र थीं। अक्षय कुमार दोनों फिल्मों में हीरो थे। वो अगले मनोज कुमार बनना चाहते हैं, जिन्हें भारत कुमार भी कहा जाता था। लेकिन अक्षय तो भारतीय ही नहीं हैं। उनके पास कनाडा का पासपोर्ट है और विकिपीडिया उन्हें इंडिया-बॉर्न कनाडाई एक्टर बताता है।"