Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Young Poet Of India Sreemay Rath Shares Poems And Struggles On Valentine Day

16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट

जेके रोलिंग से भी ज्यादा इंटरेस्टिंग है इस यंग ऑथर की स्टोरी।

आदित्य मिश्रा | Last Modified - Feb 12, 2018, 10:48 AM IST

  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें

    मुंबई.ऑथर जेके रोलिंग द्वारा लिखी हैरी पॉटर बुक सीरीज की स्क्रिप्ट को 12 पब्लिशर्स ने रिजेक्ट किया था। आज उनकी किताबें इतिहास रच चुकी हैं। ऐसी ही स्टोरी ही मुंबई के श्रीमय रथ की भी है। शुरू के दो सालों में 150 पब्लिशर्स ने उनकी पहली बुक को रिजेक्ट किया। आज 16 साल के श्रीमय 4 बुक्स पब्लिश कर चुके हैं और 5वीं पब्लिशिंग के लिए तैयार है। DainikBhaskar.com इसी यंग ऑथर की सक्सेस स्टोरी अपने रीडर्स को बता रहा है।

    वायरल हो रही है लड़कियों पर लिखी पोएम

    - श्रीमय रथ की बुक्स उनकी पोएम का कलेक्शन हैं। उन्होंने हाल ही में लड़कियों पर एक पोएम लिखी, जो कि लोगों की लड़कियों की ड्रेसिंग स्टाइल के प्रति मेंटालिटी पर सवाल उठाती है।

    - उनकी यह पोएम तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। (पोएम नेक्स्ट स्लाइड में पढ़ सकते हैं।)

    बांग्लादेश में बीता था बचपन

    श्रीमय बताते हैं, "मेरा जन्म 28 मार्च 2001 को ओडिशा में हुआ। मैं जब पांच साल का था तब मेरे पापा डीबी रथ बांग्लादेश में जॉब कर रहे थे। मैंने फर्स्ट से लेकर 5th तक की पढ़ाई बंगलादेश के चटगांव ग्रामर स्कूल में की। पापा अभी मुंबई के स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया में जनरल मैनेजर हैं।"
    - "मैंने हाई स्कूल लखनऊ के सेंट्रल स्कूल से पास किया। प्रेजेंट में मैं मुंबई के नेवी चिल्ड्रेन स्कूल से इंटरमीडिएट कर रहा हूं।"

    ऐसे आया था बुक्स लिखने का आईडिया

    - श्रीमय बताते हैं, "मैं बचपन से ही आसपास होने वाली घटनाओं को ऑब्जर्व करता था। अगर कहीं पर कुछ दर्दनाक या खौफनाक देखता, उसे घर आकर डायरी में लिख लेता था। वहीं से मेरा इंटरेस्ट राइटिंग में शुरू हुआ।"
    - "मेरे दादाजी शशिभूषण मिश्रा इस काम की हमेशा तारीफ करते थे। वो मुझे कहते थे कि मुझे बुक राइटिंग को सीरियसली लेना चाहिए। मैंने जब बुक लिखने की बात अपने पेरेंट्स को बताई, तो उन्होंने कहा कि लिखने का काम तो चलता रहेगा, पहले पढ़ाई पर ध्यान दो। अब मैं राइटिंग और स्टडीज को बैलेंस करते चलता हूं।"

    दो साल में 150 पब्लिशर्स ने किया रिजेक्ट

    श्रीमय बताते हैं, "मैंने 2014 से बुक लिखना शुरू किया था। तब मैं 13 साल का था। एक साल में मैंने अपनी पहली बुक 'A Tryst with the Devil' नाम से लिखी थी, जो कि एक भूतप्रेत पर बेस्ड थी।"
    - "अपनी स्टोरी पब्लिश कराने के लिए मैंने कई पब्लिशर्स से सम्पर्क किया। नया राइटर होने के चलते और मेरी उम्र को देखते हुए कोई भी पब्लिशर्स तैयार नहीं हुआ। दो साल में करीब 150 पब्लिशर्स ने मुझे रिजेक्ट किया, लेकिन मैंने हार नहीं मानी। मैं खुद ही लोगों के पास जाता था और अपनी बुक की मार्केटिंग करता था।"
    - "2016 में 'राइट टू लीड' नाम से अमेजन किंडल का एक कम्पटीशन निकला था। उसके तहत मैंने अपनी बुक का स्क्रिप्ट लिखकर भेजा। देशभर से तीन लाख लोगों ने उसमें पार्टिसिपेट किया था। सिलेक्टेड स्क्रिप्ट की बुक्स किंडल पर फ्री में पब्लिश होना थी।"
    - "एशिया से 25 राइटर्स सिलेक्ट हुए, जिनमें मेरा भी नाम था। अमेजन किंडल ने मेरी तीन बुक्स को फ्री में पब्लिश किया।"

    चौथी बुक को मिला ऐसा रिस्पॉन्स

    - श्रीमय बताते हैं, "मेरी पहली तीन बुक्स को पब्लिक से काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला। लोग अब मुझे मेरे नाम से जानने लगे थे। मैंने जब अपनी चौथी बुक लिखी, तो उसे पब्लिश करने के लिए खुद पब्लिशर्स ने मुझे कॉन्टेक्ट किया।
    मैंने दिल्ली के 'ब्लू रोज पब्लिशर्स' से कॉन्ट्रेक्ट फाइनल किया। मेरी चौथी बुक को अमेजन की तरफ से बेस्ट सेलर का टैग मिला। अभी तक 1500 से ज्यादा कॉपी बिक चुकी हैं।"
    - श्रीमय की चौथी बुक 'Covetous' को तीन अवार्ड मिल चुके हैं। नवंबर 2017 में नीदरलैंड में यंगेस्ट ऑथर के तौर पर 'Literary Titan book Award' मिला।
    - जनवरी 2018 में नीदरलैंड में ही 'Finalist at National Indie Authors Award' मिला।

  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें
  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें
  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें
  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें
  • 16 साल का लड़का लिख चुका है 4 बुक्स, 150 पब्लिशर्स ने किया था रिजेक्ट
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×