--Advertisement--

मुंबई कमला मिल हादसा: पब मालिक के दो रिश्तेदार गिरफ्तार, जमानत पर रिहा

मामले के मुख्य आरोपी घटना के तीन दिन बाद भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 09:55 AM IST
फाइल फोटो। फाइल फोटो।

मुंबई. कमला मिल अग्निकांड मामले में वन एबव पब के मालिकों- हितेश संघवी और जिगर संघवी के दो रिश्तेदारों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, लेकिन बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। दोनों पर संघवी भाइयों को शरण देने का आरोप है। दोनों के खिलाफ भायखला पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई थी। मुंबई पुलिस ने हितेश और जिगर के चाचा महेंद्र कुमार संघवी और चचेरे भाई आदित्य संघवी के खिलाफ आईपीसी की धारा 216 के तहत एफआईआर दर्ज की थी।

रिश्तेदार बाेले- हमें क्यों गिरफ्तार किया गया यह हमें नहीं पता

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी दीपक देवराज ने बताया कि दोनों को गिरफ्तार किया गया था, लेकिन बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। वहीं रिहाई के बाद आदित्य संघवी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम वन एबव पब के मालिकों के रिश्तेदार हैं, लेकिन हमारा पब या आग की घटना से कोई लेना देना नहीं है। हमें क्यों गिरफ्तार किया गया यह हमें नहीं पता और न ही हम जानते हैं कि वन एबव के मालिक कहां हैं। वहीं मामले के मुख्य आरोपी घटना के तीन दिन बाद भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

अब तक 27 चश्मदीदों के बयान दर्ज

मामले की जांच कर रही एनएम जोशी मार्ग पुलिस नेकुल चार एफआईआर दर्ज की है। छानबीन में जुटी पुलिस अब तक 27 चश्मदीदों केबयान दर्ज कर चुकी है। पुलिस घटना के वक्त पब मेंमौजूद दूसरेलोगों सेभी संपर्क करनेकी कोशिश कर रही है। आरोपियों के खिलाफ पुलिस नेगैर इरादतन हत्या समेत विभिन्न आरोपों मेंएफआईआर दर्ज की है।