--Advertisement--

मानसून सत्र में बदल जाएगी विधान परिषद की तस्वीर

मई, जून और जुलाई महीने में रिक्त हो रही हैं 21 सीटें

Dainik Bhaskar

Mar 26, 2018, 06:13 AM IST
मई, जून और जुलाई महीने में खाली हो रही हैं 21 सीटें मई, जून और जुलाई महीने में खाली हो रही हैं 21 सीटें

मुंबई. महाराष्ट्र विधानमंडल के मानसून सत्र में विधान परिषद की तस्वीर बदली नजर आएगी। विधान परिषद की 21 सीटें आगामी मई, जून और जुलाई महीने में रिक्त हो रही हैं। विधान परिषद की रिक्त सीटों पर चुनाव के बाद सदन में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बन सकती है। हालांकि पार्टी सदन में शिवसेना का साथ होने के बावजूद बहुमत हासिल नहीं कर पाएगी। फिलहाल सदन में राष्ट्रवादी कांग्रेस के पास सर्वाधिक विधायक हैं। विधानसभा में भाजपा के विधायकों का संख्या बल सबसे अधिक है। प्रदेश के अधिकांश नगर निकायों में भाजपा सत्ता पर काबिज है। इसलिए रिक्त सीटों पर होने वाले चुनाव में सत्ताधारी भाजपा और शिवसेना को फायदा होगा। जबकि राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस को नुकसान होगा।

इनका खत्म हो रहा कार्यकाल

विधान परिषद में स्थानीय प्राधिकारी संस्था (नगर निकाय) की छह सीटें रिक्त हो रही हैं। इसमें राष्ट्रवादी कांग्रेस की 3, कांग्रेस की 1 और भाजपा की 2 सीटें शामिल हैं। रायगड़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस के सदस्य अनिल तटकरे का कार्यकाल 31 मई को खत्म हो जाएगा।

नाशिक सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस के सदस्य जयवंतराव जाधव, परभणी और हिंगोली सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस सदस्य अब्दुल्ला खान दुर्राणी, उस्मानाबाद- बीड़-लातूर सीट से कांग्रेस सदस्य दिलीप देशमुख, अमरावती सीट से भाजपा सदस्य व प्रदेश के सार्वजनिक निर्माणकार्य राज्य मंत्री प्रवीण पोटे- पाटील और वर्धा-चंद्रपुर-गड़चिरोली सीट से भाजपा सदस्य मितेश भांगडिया 21 जून को सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

कोंकण विभाग की स्नातक निर्वाचन सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस सदस्य निरंजन डावखरे और मुंबई विभाग की स्नातक निर्वाचन सीट से शिवसेना सदस्य व प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री दीपक सावंत का कार्यकाल 7 जुलाई को खत्म हो जाएगा। मुंबई विभाग की शिक्षक निर्वाचन सीट से जेडीयू के सदस्य कपिल पाटील और नाशिक विभाग की शिक्षक निर्वाचन सीट से निर्दलीय सदस्य अपूर्व हिरे का कार्यकाल भी 7 जुलाई को खत्म हो रहा है। महाराष्ट्र विधानसभा के सदस्यों द्वारा चुनी जाने वाली 11 सीटें भी रिक्त हो रही हैं।

इसमें कांग्रेस के 3, राष्ट्रवादी कांग्रेस के 4, भाजपा के 2, शिवसेना के 1 और शेकाप के 1 सीटें शामिल हैं। विधानसभा के सदस्यों द्वारा विधान परिषद के लिए चुने गए कांग्रेस के सदस्य व सदन के उपसभापति माणिकराव ठाकरे, कांग्रेस सदस्य संजय दत्त, कांग्रेस सदस्य शरद रणपीसे, राष्ट्रवादी कांग्रेस के सदस्य जयदेव गायकवाड़, राष्ट्रवादी कांग्रेस के सदस्य नरेंद्र पाटील, राष्ट्रवादी कांग्रेस के सदस्य अमिरसिंह पंडित, राष्ट्रवादी कांग्रेस सदस्य के सुनील तटकरे, भाजपा सदस्य के भाई गिरकर, भाजपा समर्थित सदस्य व प्रदेश के पशुपालन मंत्री महादेव जानकर, शिवसेना के सदस्य अनिल परब और शेकाप के सदस्य जयंत पाटील का कार्यकाल 27 जुलाई को समाप्त हो जाएगा। विधान परिषद में कुल 78 सीटें हैं।

मुंबई शिक्षक निर्वाचन सीट पर बोरनारे को उम्मीदवारी

शिक्षक परिषद ने विधान परिषद की मुंबई शिक्षक निर्वाचन सीट के लिए अनिल बोरनारे को उम्मीदवार बनाया है। बोरनारे को सत्ताधारी भाजपा का समर्थन मिलने की पूरी संभावना है। बोरनारे शिक्षक परिषद के उत्तर मुंबई के अध्यक्ष हैं। मुंबई शिक्षक निर्वाचन सीट से निर्वाचित जेडीयू के सदस्य कपिल पाटील का कार्यकाल 7 जुलाई को खत्म हो रहा है। इसके मद्देनजर जून महीने में इस सीट पर चुनाव होने की उम्मीद है।

पुणे में शनिवार को हुई राज्य कार्यकारिणी की बैठक में आम सहमति से बोरनारे को उम्मीदवार बनाने का फैसला लिया गया।


बैठक में शिक्षक परिषद के प्रदेश अध्यक्ष वेणूनाथ कडू, कोषाध्यक्ष किरण भावठणकर, नागपुर विभाग के शिक्षक विधायक नागो गाणार, मुंबई के पूर्व शिक्षक विधायक संजीवनी रायकर, पुणे विभाग के पूर्व शिक्षक विधायक भगवानराव सालुंखे समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

Legislative council picture will change in monsoon session
X
मई, जून और जुलाई महीने में खाली हो रही हैं 21 सीटेंमई, जून और जुलाई महीने में खाली हो रही हैं 21 सीटें
Legislative council picture will change in monsoon session
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..