--Advertisement--

मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस बोले, आधी-अधूरी जानकारी जनता के लिए घातक

सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ नकारात्मक प्रचार रोकेंगे ‘महामित्र’

Danik Bhaskar | Mar 25, 2018, 05:37 AM IST

मुंबई. सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकने व सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार सोशल मीडिया पर सक्रिय युवाओं की मदद लेगी। इसके लिए ऐसे 300 युवाओं का चयन किया गया है। युवाओं का यह समूह ‘सोशल मीडिया महामित्र’ के रूप में जाना जाएगा।

- मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को यशवंत राव चव्हाण प्रतिष्ठान में आयोजित समारोह में सोशल मीडिया महामित्र समूह के लोगों की मौजूदगी में कहा कि मौजूदा सूचना क्रांति के युग में हर क्षण की जानकारी लोगों तक पहंच रही है। कई बार सही सूचना के अभाव में लोगों तक आधी-अधूरी जानकारी पहुंचती है। जो समाज के लिए घातक साबित होती है और इससे लोगों के मन में नकारात्मक धारणा बनती है। किंतु सोशल मीडिया के महामित्र न सिर्फ समाज तक सकारात्मक जानकारी पहुंचाएंगे बल्कि ढाल बनकर गलत जानकारी को लोगों तक पहुंचने से रोकेंगे। जिससे एक सक्षम व मजबूत महाराष्ट्र का निर्माण होगा।

- इस मौके पर मुख्यमंत्री ने महाराष्ट्र सरकार के जियो चैट चैनल की भी शुरुआत की। मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि वर्तमान में सोशल मीडिया का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है। लेकिन ज्ञान के अभाव में सोशल मीडिया में गलत जानकारी देने के कारण कई बार बड़ी समस्या पैदा हो जाती है। इससे नकारात्मक धारणा पैदा होती है।

सही जानकारी पहुंचाएंगे
मुझे उम्मीद है कि महामित्र लोगों तक सही जानकारी पहुंचाकर एक सकारात्मक माहौल बनाएंगे। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में अभिव्यक्ति की कोई सीमा नहीं है लेकिन लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की उनकी अभिव्यक्ति की आजादी तब तक ही उचित जब तक उससे दूसरे की स्वतंत्रता न प्रभावित हो। इसका इस्तेमाल सामजिक जागरूकता के लिए किया जाना चाहिए। महामित्र सोशल मीडिया के समाज सेवक के रूप में काम करेंगे और समाज में परिवर्तन लाने के लिए प्रयत्नशील रहेंगे।


85 हजार लोगों ने पंजीयन किया
इस दौरान सूचना व जनसंपर्क विभाग के सचिव ब्रिजेश सिंह ने कहा कि महामित्र सोशल मीडिया से फैलने वाली नकारात्कमता को दूर कर महाराष्ट्र में सकारात्मक उर्जा प्रवाहित करेंगे। पिछले महीने महामित्र एप पर 85 हजार लोगों ने पंजीयन किया था। इसमें से सोशल मीडिया पर सक्रिय 300 लोगों का चुनाव ‘महामित्र’ के तौर पर किया गया है। कार्यक्रम में सूचना व प्रद्योगिकी विभाग के सचिव एस.श्रीनिवासन सहित कई वरिष्ठ पत्रकार मौजूद थे।