मुंबई

--Advertisement--

देश में तेजी से बढ़ रहे हवाई यात्री, पर हवाई अड्डों की हालत संभालने लायक नहीं

10 साल में छह गुना बढ़ गए देश में हवाई जहाज के यात्री, 1,000 रुपए तक घट चुका है प्रतिस्पधा से हवाई किराया।

Danik Bhaskar

Mar 19, 2018, 06:50 AM IST

मुंबई. भारत का एविएशन सेक्टर तेजी से बढ़ रहा है। आलम यह है कि तेजी से बढ़ रही हवाई यात्रियों की संख्या को देश में मौजूद एयरपोर्ट संभाल नहीं पा रहे हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक इसमें संतुलन बनाने के लिए जल्द ही एयरपोर्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर पर अरबों रुपए निवेश करने की जरूरत होगी।

- वैश्विक एविएशन मार्केट का विश्लेषण करने वाली संस्था सेंटर फॉर एविएशन (कापा) के साउथ एशिया डायरेक्टर बिनित सोमैया ने यह जानकारी दी। उनके मुताबिक मध्यम वर्ग के लोगों की आमदनी बढ़ने से हवाई सफर करने वालों की संख्या बढ़ रही है। ऐसे में देश के बड़े हवाई अड्डों की मुसाफिरों को संभालने की क्षमता बढ़ाने की तत्काल जरूरत है।

मध्य वर्ग की आमदनी बढ़ने से बढ़े यात्री

- 26.5 करोड़ हवाई यात्रियों को संभाला 2016 में भारतीय एयरपोर्ट्स ने।

- 30 करोड़ को पार कर जाएगी इस साल इनकी संख्या।

- 31.7 करोड़ यात्रियों को संभालने की है इनकी क्षमता।

- 4.4 करोड़ थी 2008 में देश में हवाई यात्रा करने वालों की संख्या।

Click to listen..