--Advertisement--

खडसे बोले- मंत्रालय के 3 लाख से ज्यादा चूहे कैसे मार दिए एक हफ्ते में

विस में भाजपा नेता ने घोटाले की जताई आशंका, जांच की मांग भी की

Dainik Bhaskar

Mar 23, 2018, 07:08 AM IST
Raise questions on killing mice in record time in maharashtra ministry

मुंबई. वरिष्ठ भाजपा नेता एकनाथ खडसे ने एक बार फिर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधते हुए मंत्रालय में रिकॉर्ड समय में चूहे मारे जाने पर सवाल उठाए। आरटीआई का हवाला देते हुए खडसे ने विधानसभा में कहा कि मंत्रालय में एक सप्ताह के भीतर तीन लाख 19 हजार चार सौ चूहे मारे जाने का दावा किया गया है।

- उन्होंने कहा कि रिकॉर्ड बताते हैं कि मंत्रालय में रोजाना नौ टन से ज्यादा चूहे मारे गए, लेकिन इन मरे हुए चूहों को कहां और कैसे ठिकाने लगाया गया इसकी जानकारी देने के लिए कोई तैयार नहीं है। घोटाले का शक जताते हुए उन्होंने इस मामले की जांच की मांग की है।

- खडसे ने मुख्यमंत्री के अधीन सामान्य प्रशासन विभाग और गृहविभाग के कामकाज पर सवाल उठाए। खडसे ने कहा कि मुंबई महानगर पालिका दो साल में छह लाख चूहे मारती है। लेकिन मंत्रालय में एक सप्ताह के भीतर यानी 3 मई 2016 से 10 मई 2016 तक तीन लाख 19 हजार चार सौ चूहे मारने का कारनामा कर दिखाया।

6 माह का समय, 7 दिन में कैसे पूरा हुअा काम

- खडसे ने कहा कि मंत्रालय के चूहे मारने के लिए एक कंपनी को छह महीने का समय मिला था, लेकिन उसने सात दिन में ही यह काम खत्म कर दिया। यह अपने आप में आश्चर्य हैं।

कैसे लाए चूहे मारने का जहर
- खडसे ने सवाल किया कि जिस कंपनी को चूहे मारने का ठेका मिला था उसके पास मंत्रालय में जहर लाने की अनुमति नहीं थी। गृह विभाग और सामान्य प्रशासन विभाग की अनुमति के बिना विष मंत्रालय में कैसे लाया गया?

- खडसे ने कहा कि किसान धर्मा पाटील ने जो जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या की थी वह चूहे मारने की दवा थी। खडसे ने इस पूरे मामले की जांच की मांग की।

Raise questions on killing mice in record time in maharashtra ministry
X
Raise questions on killing mice in record time in maharashtra ministry
Raise questions on killing mice in record time in maharashtra ministry
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..