Hindi News »Maharashtra »Mumbai» Sbi Reduced Interest Rates That Reflects Loan Instalments

स्टेट बैंक ने ब्याज दर घटाई, 20 लाख के पुराने होमलोन की किस्त 384 रु. कम हुई

देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई के फैसले से करीब 80 लाख लोगों को फायदा होगा।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 02, 2018, 07:10 AM IST

स्टेट बैंक ने ब्याज दर घटाई, 20 लाख के पुराने होमलोन की किस्त 384 रु. कम हुई

मुंबई.देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई के पुराने कर्ज सस्ते हो गए हैं। बैंक ने 1 जनवरी से बेस रेट 8.95% से घटाकर 8.65% कर दिया है। यह दूसरे सभी बैंकों से कम है। इससे 20 लाख रुपए के होम लोन की ईएमआई करीब 384 रुपए कम हो जाएगी। अप्रैल 2016 में एमसीएलआर की व्यवस्था शुरू होने से पहले कर्ज पर ब्याज बेस रेट से ही तय होता था। बैंक की फंड लागत से जुड़े एमसीएलआर में कोई बदलाव नहीं किया गया है। एक साल का एमसीएलआर 7.95% है। यानी अप्रैल 2016 या इसके बाद कर्ज लेने वालों की ईएमआई नहीं घटेगी।


एसबीआई के रिटेल बैंकिंग के एमडी पीके गुप्ता ने बताया कि ब्याज दरों में कटौती से 80 लाख ग्राहकों को फायदा होगा। इन्होंने अपना लोन बेस रेट से एमसीएलआर में शिफ्ट नहीं कराया था। बेस रेट में हर तिमाही और एमसीएलआर में हर महीने संशोधन होता है। बैंक ने नए होम लोन पर प्रोसेसिंग फीस में छूट की अवधि भी मार्च तक बढ़ा दी है।

इससे पहले एसबीआई ने 28 सितंबर को बेस रेट 0.05% कम किया था। बैंकों द्वारा ब्याज दरों में मामूली कटौती पर आरबीआई ऐतराज जता चुका है। दिसंबर 2014 से अक्टूबर 2016 के दौरान आरबीआई ने रेपो रेट में 1.75% कटौती की, जबकि बैंकों ने बेस रेट औसतन 0.60% ही घटाए।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mumbai News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: stet bank ne byaaj dr ghtaaee, 20 laakh ke purane homloan ki kist 384 ru. km huee
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×