Hindi News »Maharashtra »Mumbai» PNB Fraud Case - SFIO Summons Senior Officials From ICICI, Axis & Other Private Banks, Share Market Affected

पीएनबी फ्रॉड: 31 बैंक प्रमुखों को पूछताछ के लिए बुलाया, शेयर बाजार 3 महीने के निचले स्तर पर

आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ चंदा कोचर और एक्सिस बैंक की सीईओ शिखा शर्मा का नाम सबसे पहले आया।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 07, 2018, 01:21 PM IST

  • पीएनबी फ्रॉड: 31 बैंक प्रमुखों को पूछताछ के लिए बुलाया, शेयर बाजार 3 महीने के निचले स्तर पर
    +1और स्लाइड देखें
    मंगलवार को जब इसकी खबर आई तो पहला असर शेयर बाजार पर दिखा। सेंसेक्स 430 अंक गिरकर 33,317 पर बंद हुआ। - फाइल

    नई दिल्ली/मुंबई. पीएनबी घोटाले की आंच 31 बैंकों तक पहुंच गई है। सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन ऑफिस (एसएफआईओ) ने इन बैंकों के प्रमुखों को पूछताछ के लिए समन भेजा। मंगलवार को जब इसकी खबर आई तो पहला असर शेयर बाजार पर दिखा। सेंसेक्स 430 अंक गिरकर 33,317 पर बंद हुआ। पूछताछ के लिए एक्सिस बैंक की सीईओ शिखा शर्मा और आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ चंदा कोचर का नाम सबसे पहले आया। हालांकि, एक्सिस बैंक की ओर से डिप्टी एमडी वी. श्रीनिवासन के साथ अफसरों की टीम एसएफआईओ पहुंची। हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी की कंपनियों को कर्ज देने के सिलसिले में इनसे दो घंटे तक पूछताछ की गई। इस बीच स्टॉक एक्सचेंजों ने भी आईसीआईसीआई और एक्सिस बैंक से सफाई मांगी है। गीतांजलि जेम्स को 31 बैंकों के कंसोर्टियम ने करीब 6,800 करोड़ रुपए का कर्ज दिया है। आईसीआईसीआई कंसोर्टियम का लीड बैंक हैं।

    अब तक 198 छापे, 6,000 करोड़ की प्रॉपर्टी जब्त

    12,717 करोड़ रु. के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले में 4 एजेंसियां कार्रवाई कर रही हैं। ईडी, आईटी एसएफआईओ और सीबीआई। अब तक 198 छापे पड़े हैं। करीब 6,000 करोड़ की संपत्ति जब्त हुई है और 20 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

    घोटाले का आकार और बढ़ने की आशंका
    - सीबीआई ने मुंबई कोर्ट को बताया है कि घोटाले की रकम और बढ़ सकती है। पीएनबी के पास सभी एलओयू (लेटर ऑफ अंडरटेकिंग) नहीं हैं। कुछ एलओयू नीरव-मेहुल की कंपनियों को लौटा दिए गए थे। उनका पता लगने पर घोटाले का आकार बढ़ सकता है।

    - उधर, मेहुल चौकसी के गीतांजलि ग्रुप के बैंकिंग ऑपरेशंस के चीफ विपुल चितालिया को गिरफ्तार कर लिया गया है।

    - नीरव की कंपनी फायरस्टार डायमंड ने ईडी के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में अर्जी लगाकर वित्त मंत्रालय और ईडी को सर्च वारंट की कॉपी देने की मांग की है।

    जांच का दायरा बढ़ने से शेयर 3 महीने के निचले स्तर पर

    - पीएनबी घोटाले के बाद राेज बढ़ते जांच के दायरे से शेयर बाजार तीन महीने के निचले स्तर पर पहुंच चुका है। इस दौरान सबसे ज्यादा नुकसान बैंकों के शेयर को हुआ है। एसबीआई के शेयर तो 2.77% तक गिर गए हैं।

    - 429.58 अंकों की गिरावट एक महीने में सर्वाधिक है। इससे पहले 6 फरवरी को 561.22 गिरा था। 5 दिनों में सेंसेक्स 1,129 अंक उतरा है।

    - बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 1.54 लाख करोड़ रु. घटा। 14 फरवरी को घोटाला सामने आने के बाद मार्केट कैप 4.86 लाख करोड़ कम हुआ है।

    - 429.58 अंक गिरकर सेंसेक्स 33,317.20 पर बंद। 14 दिसंबर 2017 के बाद सबसे निचला स्तर। उस दिन सेंसेक्स 33,247 पर था।

    बैंकों के शेयर 2.7% तक गिरे
    बैंकशेयर गिरेमार्केट कैप घटा
    एसबीआई2.77%6308 करोड़ रु.
    आईसीआईसीआई2.64%5141 करोड़ रु.
    पीएनबी2.3%558 करोड़ रु.
    कोटक महिंद्रा1.53%3202 करोड़ रु.
    एक्सिस बैंक1.31%1759 करोड़ रु.
  • पीएनबी फ्रॉड: 31 बैंक प्रमुखों को पूछताछ के लिए बुलाया, शेयर बाजार 3 महीने के निचले स्तर पर
    +1और स्लाइड देखें
    12,717 करोड़ के पीएनबी घोटाला को देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाला के तौर पर सामने आया है। - फाइल
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mumbai News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: PNB Fraud Case - SFIO Summons Senior Officials From ICICI, Axis & Other Private Banks, Share Market Affected
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Mumbai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×