--Advertisement--

संघ की क्लास में नहीं पहुंचे खडसे-देशमुख, जारी किया जाएगा कारण बताओ नोटिस

खडसे व देशमुख पर इसलिए सख्ती खडसे राज्य मंत्रिमंडल में वरिष्ठ मंत्री रहे हैं।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 09:42 AM IST

नागपुर. राज्य सरकार के विरोध में असंतोष जता रहे भाजपा विधायक एकनाथ खडसे व आशीष देशमुख राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बौद्धिक कक्षा में भी नहीं पहुंचे। खडसे व देशमुख की इस भूमिका को भाजपा ने गंभीरता से लिया है। भाजपा इस मामले में दोनों सदस्यों से स्पष्टीकरण मांगने वाली है। दोनों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। बुधवार को सुबह विधानमंडल अधिवेशन के लिए नागपुर में आए मंत्रियों व विधायकों के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने रेशमबाग स्थित स्मृति मंदिर भवन परिसर में बौद्धिक चर्चा का आयोजन किया था। इसमें मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत कई मंत्री व विधायकों ने शिरकत की। चर्चा सत्र में सभी भाजपा विधायकों का शामिल होना अनिवार्य था। लेकिन खडसे व देशमुख नहीं पहुंचे। बताया गया कि विधानसभा से 112 व विधानपरिषद से 13 भाजपा विधायक संघ की क्लास में शामिल हुए थे। कुछ सदस्य विविध कारणों से उपस्थित नहीं रह पाए।

खडसे व देशमुख पर इसलिए सख्त

खडसे व देशमुख पर इसलिए सख्ती खडसे राज्य मंत्रिमंडल में वरिष्ठ मंत्री रहे हैं। जमीन घोटाले में लिप्तता के आरोप में उन्हें राजस्व मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा। वे विधानसभा में विविध प्रश्न उठाकर मंत्रियों की खिंचाई कर रहे हैं। वहीं देशमुख ने भी विदर्भ को न्याय दिलाने की मांग के साथ अधिवेशन शुरू होने के पहले मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था। उनका कहना है कि विदर्भ में विकास कार्य को गति नहीं मिल पाई है।

संघ की सरकार को सलाह-

गांवों के विकास पर दे ध्यान संघ ने राज्य सरकार की जन कल्याण के मुद्दों पर क्लास ली। मंत्रियों व विधायकों को समाज के जरूरतमंद वर्ग के विकास के लिए कार्य करने व विविध योजनाओं के प्रभावी अमल के लिए कहा गया। संघ सूत्र के अनुसार सरकार को विदर्भव अन्य विभागों के ग्रामीण क्षेत्रों के विकास कार्यों पर अधिक ध्यान देने को कहा गया है। पश्चिम विदर्भ में संघ ने गांवों में सामाजिक स्थिति का सर्वे किया है। उसे आदिवासी विद्यार्थियों के लिए बनाए गए सरकारी बाल आश्रमों की स्थिति अच्छी नहीं होने की शिकायत बार-बार मिल रही है। लिहाजा संघ की ओर से कहा गया कि जरूरतमंद वर्ग की सहायता के लिए योजनाओं को प्रभावी ढंग से अमल में लाना होगा। सरकारी योजनाओं में अंत्योदय की भावना को प्राथमिकता देने को भी कहा गया है।

भाजपा विधायक आशीष देशमुख संघ की कक्षा में तो नहीं पहुंचे लेकिन विधानभवन के बाहर राकांपा नेता अजित पवार से उनकी मुलाकात चर्चा में बनी रही।

सूचना के बाद भी अनुपस्थित रहनेवाले सदस्यों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। -राज पुरोहित, विधानमंडल में भाजपा के मुख्य प्रतोद