पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ईरान से इंडिया आकर किया शौक पूरा, लेडी बाइकर चलाती है 370 Kg की बाइक

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुणे.  हार्ले डेविडसन का नाम सुनते ही एक भारी-भरकम बाइक और उसे चलाने वाले 'माचो मैन' की इमेज उभरती है, लेकिन वक्त के साथ यह ट्रेंड भी बदल रहा है। कभी पुरुषों की पसंद रहने वाली इस हैवी बाइक को अब कई महिलाएं खरीद रही हैं। एेसी ही एक पुणे बेस्ड ये ईरानी लेडी बाइकर इन दिनों चर्चा में है। 370 किलो की 800 सीसी BMW GS चलाने वाली ये लेडी इन दिनों 7 महाद्वीपों के मिशन पर निकल चुकी हैं। ईरान में नहीं थी इजाजत तो इंडिया आकर किया शौक पूरा... 
 
 
- डॉक्‍टर मारल याजरलू का जन्‍म ईरान में हुआ और वे वहीं पली-बढ़ीं। करीब 15 साल पहले वे पुणे आ गईं और पिछले 6 साल से बाइकिंग कर रही हैं। 
- दरसल उन्होंने भारत आने के बाद बाइकिंग शुरू की थी, क्योंकि उनके देश में महिलाओं को गाड़ियां चलाने की इजाजत नहीं है।
- मार्केटिंग में एमबीए 35 साल की याजरलू के पास पीएचडी की भी डिग्री है। पिछले 11 सालों से एक कंपनी में बतौर रीटेल और मार्केटिंग हेड काम कर रही है ये ईरानी लेडी एक लाख किमी का सफर कर रिकॉर्ड बनाना चाहती है। 
 
सफर में कई परेशानियों से पड़ा गुजरना
- वे अभी 7 महाद्वीपों के 45 देशों में घूमने के मिशन पर हैं। जिसमें वे बाइक से ही करीब 1 लाख किमी की दूरी तय करेंगी। 
- उनका ये मिशन 15 मार्च को शुरू हुआ था। अब तक के अपने पहले स्टेप में वे म्यांमार, थाईलैंड और ऑस्ट्रेलिया काे नाप चुकी हैं। इस वक्त वे पेरू में है। इस दौरान कई परेशानियां जैसे खराब मौसम और मुश्किल रास्तों से गुजरना पड़ा। 
 
बचपन से ही था बाइक चलाने का क्रेज
- मारल के मुताबिक, "मैं बचपन से ही बाइक चलाने की क्रेजी रही हूं। इसके लिए मेरी अपने दो भाइयों से अक्सर लड़ाई होती थी। इसके बावजूद मैंने बाइक सीखी।"
- 2012 में वे एक फैशन ब्रांड भी लॉन्च कर चुकी है और इस मिशन से वापस लौटने के बाद एक फैशन शो भी करना चाहती हैं। साथ ही वे चाहती है कि उनके देश में महिलाओं के लिए बने बाइक न चलाने के कानून को बदला जाए। 
 
 
अागे की स्लाइड्स में देखें मारल की चुनिंदा फोटोज...
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें