--Advertisement--

गणेशोत्सव / युगांडा में ढोल नगाड़े के साथ हुआ बाप्पा का आगमन



युगांडा का यह वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। युगांडा का यह वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है।
  • यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है
  • युगांडा में गणेश जी की पूजा की जाती है
Danik Bhaskar | Sep 14, 2018, 09:11 AM IST

मुंबई. भारत समेत विदेशों में गुरुवार से गणेशोत्सव की शुरुआत हुई। इस बीच अफ्रीका के उगांडा का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें ढोल नगाड़ों के साथ वहां के लोग अपनी मूल वेशभूषा में गणपति उत्सव मनाते हुए नजर आ रहे हैं। 

 

 

युगांडा में होती है गणपति की पूजा: जो वीडियो सामने आया है उसमें युगांडा के नागरिक अपने वाद्ययंत्रों के साथ बाप्पा का जयघोष करते हुए नजर आ रहे हैं। अफ्रीका में एक वर्ग गणेश जी को दुष्टात्माओं के दुष्प्रभाव से रक्षा करने वाला देवता मानता है। कई शहरों में गणपति बौद्ध विहारों स्थापित हैं। अफ्रीका में भारतियों के साथ बड़ी संख्या में बौद्ध धर्म को मानने वाले लोग भी रहते हैं। ये हर साल धूमधाम से गणेशोत्सव मनाते हैं। तिब्बत में कहा जाता है कि भगवान बुद्ध ने अपने शिष्यों से गणपति हृदय नामक मंत्र जपवाया था। 


 
इन देशों में भी होती है गणपति की पूजा: ईसा से 236 वर्ष पूर्व मिस्र में भी श्री गणेश के कई मंदिर होने की जानकारी सामने आई थी। उस समय इन्हें कृषि रक्षक के नाम से पूजा जाता था। किसान अपने खेत में ऊंचे स्थान पर गणेश प्रतिमा स्थापित करते थे। उगांडा के अलावा, नेपाल, सिंगापुर, थाईलैंड, जावा एवं बाली में भी गणेशोत्सव मनाया जाता है।श्रीलंका, म्यांमार में भी विभिन्न रूपों में गणेश पूजा की जाती है। बोर्नियो में भी विभिन्न रूपों में गणेश और बुद्ध की जुड़वां प्रतिमाएं हैं।

--Advertisement--