--Advertisement--

एयर होस्टेस छलांग लगाकर ने बचाई 10 महीने के बच्चे की जान, इंटरनेट पर जमकर हो रही तारीफ

घटना पिछले महीने मुंबई एयरपोर्ट पर हुई। जेट एयरवेज की एयर होस्टेस मितांशी वैद्द की हो रही तारीफ।

Danik Bhaskar | Apr 30, 2018, 01:14 PM IST
जेट एयरवेज की एयर होस्टेस मितांशी वैद्द जेट एयरवेज की एयर होस्टेस मितांशी वैद्द

नई दिल्ली. इंटरनेट पर जेट एयरवेज की एक एयर होस्टेस की जमकर तारीफ हो रही है। दरअसल, एक महिला मुंबई एयरपोर्ट से अहमदाबाद के लिए रवाना हो रही थी। चेक-इन फॉर्मैलिटीज पूरी करने के बाद वह जैसे ही सिक्युरिटी काउंटर के पास से गुजरी उसकी गोद से 10 महीने का बच्चा फिसल गया। किस्मत से जेट एयरवेज की एयर होस्टेस मितांशी वैद्द वहीं मौजूद थी। और लगा दी छलांग...

- रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना पिछले महीने की है। बताया जा रहा है कि जैसे ही बच्चा मां की गोद से फिसला, मितांशी ने छलांग लगाकर उसे लपक लिया। इसमें बच्चे को जरा भी चोट नहीं लगी, लेकिन मितांशी को नाक पर चोट जरूर आई है।
- वहीं, अपने बच्चे को सेफ पाकर प्राइवेट कंपनी में बतौर एमडी बच्चे की मां गुलाफा शेख ने जेट एयरवेज और एयर होस्टेस मितांशी का धन्यवाद किया।

मां ने जेट एयरलाइंस के लिए लिखा
- इसके बाद गुलाफा ने जेट एयरलाइन्स को एक लेटर लिखा, 'किस्मत से एक युवती वहां मौजूद थी, जिसने मेरे 10 महीने के बेटे को बचाया। इसमें उनकी नाक पर चोट आई, जिसका निशान पूरी उम्र भी रह सकता है।'
- इस पर एयरलाइंस ने मितांशी के काम की सराहना करते हुए कहा कि उसने चेहरे पर निशान की परवाह नहीं की, जबकि इससे उनकी जॉब को भी खतरा हो सकता था।
- एयरलाइंस के एक सीनियर अफसर ने कहा- 'हमें गर्व है कि मितांशी जून, 2016 से हमारे साथ काम कर रही हैं।'

'वो मेरे लिए एंजल जैसी है'
- गुलाफ ने लेटर में आगे लिखा कि उन्होंने मितांशी से फोन नंबर भी मांगा था पर उसने मुस्कुराते हुए कहा वह नंबर नहीं दे सकती, क्योंकि यह कंपनी पॉलिसी के खिलाफ है।
- '14 साल की शादी के बाद मुझे बच्चा हुआ है। वह (एयर होस्टेस) मेरे लिए एंजल जैसी है।'